कोरोना अपडेट

कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

आइ लव यू, डू यू लव मी..जेल की दीवारों पर इश्क ए 'इजहार' महिलाकर्मियो ने कही ये बात

30 Jun, 2020 09:45 AM | R Kumar 8

सैयद नकी इमाम, पटना। जेलों में कार्यरत महिला कर्मियों पर भी साथ-साथ काम करने वाले पुरूष कर्मी बुरी नजर रखते हैं। पटना की फुलवारीशरीफ जेल की महिलाकर्मी इन दिनों दीवारों पर मोटे-मोटे अक्षरों में इश्क के इजहार की लिखी गई बातों से परेशान हैं। इसको लेकर उन्होंने अफसरों से शिकायत की है। जेल अधीक्षक जवाहर लाल प्रभाकर ने पुरूषकर्मियों की हरकतों की पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की जांच चल रही है।



इश्क के इजहार की होगी अब पड़ताल
जेल में तैनात पुरुषकर्मियों द्वारा सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली हरकतों से त्रस्त जेल की दो महिला कर्मियों ने जेल प्रशासन से न्याय में हीलाहवाली पर आइजी जेल को आवेदन देकर जांच करा कार्रवाई की गुहार लगाई तो मामले की पड़ताल शुरू हो गई। जेल सूत्रों के अनुसार जांच पूरी हो चुकी है, परंतु जिन कर्मियों पर आरोप लगाया गया है उनको जेल के अधिकारियों की ओर से बचाने का प्रयास किया जा रहा है।
सहकर्मियों से भयभीत हैं महिला कर्मी
विदित हो कि राज्य सरकार ने कारा विभाग में जेल आरक्षी की बहाली में महिलाओं को भी भर्ती किया है। सैकड़ों लड़कियों बहाल हुई हैं। इनकी ड्यूटी जेल की सुरक्षा में भीतर और बाहर लगाई जाती है। ये बखूबी अपने कार्य को अंजाम दे रही हैं, मगर इनको सहकर्मियों से ही भयभीत हैं।
दीवारों पर लिखा है-अाइ लव यू
फुलवारीशरीफ जेल में इनके सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली दीवारों पर लिखी गईं बातों में 'आई लव यू' डू यू लव मी, और 'मैं तुम्हारे बिना जी नहीं सकता' आदि शामिल हैं। लिखावट मोटे-मोटे अक्षरों में है जिसे कैदी पढ़कर मजाक बनाते हैं। महिला जेलकर्मियों का कहना है कि पहले शिकायत जेलर एवं बड़ा बाबू से की गई थी, परंतु कोई कार्रवाई नहीं होने पर आवेदन जेल आइजी को दिया। उनके आवेदन को जांच के लिए फुलवारीशरीफ जेल भेज दिया गया है।
जेल अधीक्षक के अनुसार दोनों महिला जेलकर्मी के आवेदन की जांच करने के बाद रिपोर्ट अधिकारियों को सौंप दी गई है। उनका यह भी कहना है कि कोरोना में कार्य का भार बढ़ जाने के कारण महिला जेलकर्मी ऐसे बहाने बना रहीं हैं।

अन्य समाचार