कोरोना अपडेट

कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

Diwali 2020: इस बार पांच नहीं, चार दिनों का होगा दीपोत्सव, प्रदोष काल में होगी लक्ष्मी पूजा

21 Sep, 2020 04:37 PM | R Kumar 17

हिंदू धर्म में दीपावली के त्योहारा को बहुत ही खास माना जाता हैं इसे पंच महोत्सव, दीप पर्व आदि कई नामों से जानते हैं पंच महोत्सव इस बार पांच नहीं बल्कि चार दिनों का ही होगा।



13 नवंबर को धन त्रियोदशी से दीप पर्व की शुरूवात होगी। जो कि 16 नवंबर को भाई दूर के साथ समाप्त हो जाएगी। ज्योतिष के मुताबिक वर्ष 2019 में भी ऐसा ही संयोग बना था। तो आज हम आपको दीप उत्सव से जुड़ी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।
ज्योतिष के मुताबिक दीप पर्व पर्वकालीन तिथियों में ही मनाया जाता हैं 13 नवंबर को तेरस शाम छह बजे तक रहेगा। बाद में चतुर्दशी शुरू होगी। जो 14 नवंबर को दोपहर 2.18 बजे तक रहेगी। इसलिए 13 नवंबर को प्रदोष काल में धनतेरस, यम दीपदान, शिवरात्रि व प्रदोष के पर्व मनाए जाएंगे। धन्वंतरि जयंती का पूर्व भी मनाया जाएगा।
वही रूप चतुर्दशी का त्योहार अरुणोदय से पूर्व मनाया जाएग। इसलिए कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी शनिवार की सुबह मनाई जाएगी। ज्योतिष ने बताया कि साल 2019 में भी ऐसी स्थितियां बनी थी। 27 अक्टूबर को सुबह रूप चौदस मनाई गई तो शाम को प्रदोष काल में दीपावली।
इस साल 14 नवंबर को स्वाति नक्षत्र, सौभाग्य योग, तुला राशि का चंद्रमा, तुला राशि का सूर्य व धनु राशि के गुरु में होगा। ऐसी मान्यता हैं कि जिस दिन सूर्यास्त के बाद एक घड़ी अधिक तक अमावस्या तिथि रहे, उस दिन दीपावली मनाई जाती हैं इस साल 13नवंबर को दोपहर 2.18 तक चतुर्दशी, बाद में अमावस्या शुरू होगी। जोकि 14 को सुबह 10.37 तक रहेगी। इसलिए 14 नवंबर को महालक्ष्मी पूजन होगा और दीवाली भी मनाई जाएगी।

अन्य समाचार