कोरोना अपडेट

कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

ओ मेरे दिल के चैन' गीत से राजेश खन्ना के स्टारडम में लग गए थे चार चांद

25 Sep, 2020 10:24 AM | R Kumar 21

52 साल पहले 1972 में बनी हिंदी कॉमेडी प्रेम कहानी फिल्म है 'मेरे जीवन साथी' रविकांत के डायरेक्शन में बनी फिल्म थी। राजेश खन्ना, तनुजा, सुजीत कुमार, बिंदु, हेलन, नासिर हुसैन और राजेंद्रनाथ ने प्रमुख भूमिका निभाई थी इस फिल्म में।



फिल्म एक ऐसे कलाकार युवा राजेश खन्ना अभिनीत पात्र प्रकाश की कहानी है जो अपने अमीर पिता की अमीरी को छोड़ अपना मुकाम खुद बनाना चाहता हैं। संघर्ष के दौर में उनके जीवन में दो लड़कियां हेलन (राजकुमारी कामिनी) और तनुजा (डॉक्टर ज्योति) आती है और इनसे प्यार और रोमांस का सिलसिला बनता है, लेकिन प्रकाश का सच्चा प्यार है ज्योति इसे पाने का ताना-बाना है इस फिल्म की कहानी में।
फिल्म राजेश खन्ना के स्टारडम के दौर में बनी थी और अपने संगीत, संवाद और स्टार कास्ट के पहनावे के लिए जानी जाती है। आर. डी. बर्मन के संगीत और राजेश खन्ना के लिए गाए किशोर कुमार के गीतों के संयोजन ने फिल्म की सफलता में बड़ा योगदान दिया फिल्म में लता मंगेशकर और आशा भोसले ने भी गीत गाए हैं।
'चला जाता हूं किसी की धुन में' गीत की धुन संगीतकार आर. डी. बर्मन को सपने में सूझी थी। शुरुआत में राजेश खन्ना इस गीत को लेकर खुश नहीं थे और फिल्म में यह गाना नहीं चाहते थे। लेकिन जब बर्मन डायरेक्ट के कहने पर राजेश खन्ना के रूम में अपना हारमोनियम लेकर गए तो 15 मिनट में वापस आ गए क्योंकि राजेश खन्ना ने उछलते हुए इस गाने को पसंद कर लिया था और किशोर कुमार ने जबरदस्त स्टाइल में इसे गाया था। फिल्म में 8‌ गीत थे लेकिन 'ओ मेरे दिल के चैन', 'चला जाता हूं', 'दीवाना लेकर आया है' जैसे गीत आज 52 साल बाद भी ताजगी भरे हैं। फिल्म में एक ही 'मेरे जीवन साथी' संगीतकार आरडी बर्मन ने गाया था।
राजेश खन्ना एक बेहतरीन कलाकार थे। जो अब हमारे बीच नहीं रहे। लेकिन उनके कई फिल्म आज भी दर्शकों के मन पर छाया रहेगा। वह कलाकार के साथ एक बेहतरीन इंसान भी थे।

अन्य समाचार