कोरोना अपडेट

कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

1990 के चुनाव में सीपीआइ से हार का हैट्रिक लगानेवाले सरयुग मंडल निर्दलीय जीते थे

18 Oct, 2020 03:30 AM | R Kumar 10

पूर्णिया। रूपौली विधानसभा का दसवां विधानसभा चुनाव हमेशा दूसरे स्थान पर रहे तथा हार का हैट्रिक लगाने वाले सरयुग प्रसाद मंडल निर्दलीय जीत गए थे । इस चुनाव में 30 प्रत्याशी मैदान में थे । रूपौली के इतिहास में सरयुग प्रसाद मंडल ने सबसे कम मतों से भाजपा के पूर्व सांसद जयकृष्ण मंडल को 627 मतों से हराया था । तब यहां कुल 144556 वोटर थे तथा कुल 90514 वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था । इस चुनाव में सरयुग प्रसाद मंडल को कुल 20789 मत मिले थे, जबकि दूसरे स्थान पर रहे भाजपा के जयकृष्ण मंडल को 20162 मत मिले थे । तीसरे नंबर पर सीपीआई प्रत्याशी बालकिशोर मंडल थे, जिन्हें कुल 20162 मत मिले थे । इस चुनाव में पिछली बार के मुकाबले मतदाताओं की संख्या में 23837 मतों की वृद्धि हुई थी । कुल 62 फीसद मतों का प्रयोग हुआ था। इस चुनाव में महिला एवं पुरूष मतदाताओं में एक हजार पुरूष मतदाताओं के मुकाबले मात्र 970 महिलाएं थीं।



बदमाशों ने छात्र से छीना मोबाइल यह भी पढ़ें
इस चुनाव को जीतने के बाद विधायक सरयुग प्रसाद मंडल ने सबसे पहले नदियों में पुल की ओर ध्यान दिया था तथा लोगों को रास्ता सुलभ करवाया था। उनके द्वारा मोहनपुर ओपी को जोड़ने वाले रूपौली मोहनपुर सड़क पर डोभा घाट पर लोहा पुल बनवाया था। इसके अलावा भवानीपुर से अकबरपुर ओपी क्षेत्र को जोड़ने के लिए बलियाघाट पर लोहापुल बनवाया था। रायपुरा घाट पर भी प्रयास किया था, परंतु वे सफल नहीं हो पाए थे । ठीक इसी तरह वे टीकापट्टी हाईस्कूल में दो कमरों का भवन दिया था । शेखपुरा के बस्ताघाट पर पुल बनवाया था । उनका कहना है कि उस समय मात्र तीन लाख रुपये विधायक को फंड मिलता था, वावजूद लोगों के आवागमन के लिए अधिकारियों से मिलकर लोगों का यातायात सुलभ कराया था। कुल मिलाकर विकास की गाड़ी चल पड़ी थी, जो निरंतर जारी है ।
डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

अन्य समाचार