कोरोना अपडेट
कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

उप्र में टीआरपी घोटाले की भी जांच करेगी सीबीआई

21 Oct, 2020 10:12 AM | R Kumar 16

एक विज्ञापन कंपनी के प्रमोटर कमल शर्मा द्वारा 17 अक्टूबर को की गई शिकायत के आधार पर लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज जो मामला दर्ज किया गया था, मंगलवार को उसे उप्र सरकार ने सीबीआई को सौंप दिया है।



अधिकारियों के अनुसार, प्राथमिक तौर पर जो आरोप लगाया गया है, वह पैसे देकर टीआरपी में हेरफेर करने से संबंधित है। हालांकि इस बारे में सीबीआई अधिकारियों ने कोई और जानकारी देने से इनकार कर दिया है। उप्र सरकार ने ये कदम तब उठाया है जब मुंबई पुलिस भी टीआरपी के ही मामले में रिपब्लिक टीवी सहित तीन चैनलों द्वारा कथित हेरफेर करने की जांच कर रही है।
राज्य के गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि डीजीपी की सिफारिश पर यह मामला सीबीआई को भेजा गया था। उन्होंने यह भी कहा, टीआरपी घोटाला केवल उप्र तक सीमित नहीं है और इसमें कई राज्यों में फैले समूह और लोग शामिल हैं। इसी कारण मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी को सौंपी गई है।
भारत में ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) बार-ओ-मीटर उपकरण के जरिए टीआरपी मापता है, जिसे पूरे देश में 45 हजार से अधिक घरों में लगाया गया है। यह डिवाइस इन घरों के सदस्यों द्वारा देखे गए कार्यक्रम या चैनल के बारे में डेटा इकट्ठा करता है, जिससे साप्ताहिक रेटिंग जारी की जाती है।
--आईएएनएस
एसडीजे-एसकेपी

अन्य समाचार