कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
Live Update: बिहार के हर जिला का कोरोना अपडेट, टीकाकरण और टेस्ट का डाटा देखे

पकरीबरावां के दो दारोगा व तीन पुलिसकर्मियों पर मुकदमा

रिटायर्ड दारोगा ने लगाया अकारण मारपीट का आरोप



जासं, नवादा : सेवानिवृत दारोगा की पिटाई का मामला अदालत पहुंच गया। अदालत ने परिवाद को पंजीकृत करते हुए सुनवाई के लिए तिथि निर्धारित की है। घटना मतदान के दिन यानि 28 अक्टूबर की बताई जाती है। पकरीवरावां थाना क्षेत्र के डोला गांव निवासी सतीश कुमार द्वारा मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में दायर परिवाद में पकरीवारावां थाना के पुलिस अवर निरीक्षक विनोद कुमार, नवनीत कुमार व आरक्षी मनीष कुमार को नामजद किया गया है। परिवाद के अनुसार सेवानिवृत दारोगा मतदान कि तिथि 28 अक्टूबर को वे मतदान कर अपने घर के बाहर बैठे थे। तभी सभी आरोपी सहित 8-10 की संख्या में पुलिसकर्मी वहां पहुंचे तथा अकारण ग्रमीणों को गाली देते हुए मारपीट करना शुरू कर दिया। जब सेवानिवृत दारोगा ने अपना परिचय देते हुए मारपीट का विरोध किया, तब उग्र होते हुए गाली गलौच करते हुए बेरहमी से पिटाई की गई। जिससे वे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। परिवाद पत्र में यह भी उल्लेखित है कि सभी आरोपितों ने एक खास उम्मीदवार के पक्ष में वोट नहीं देने को लेकर पिटाई की। वहीें परिवादी के अधिवक्ता संजय प्रियदर्शी ने बताया कि पुलिस के पिटाई के कारण उन्हें गम्भीर जख्म हुआ है। जिसका इलाज जिला से बाहर के अस्पताल में किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व पुलिस के विरूद्ध कई परिवाद दायर किए गए है। उसमें से एक परिवाद के आधार पर कादिरगंज के तत्कालीन दारोगा तथा एक आरक्षी को आजीवन कारावास की भी सजा न्यायालय द्वारा सुनाई जा चुकी है। नगर के चर्चित मनोज हत्याकांड के मामले में नगर थाना के तत्कालीन थानाध्यक्ष जमानत पर चल रहे हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

अन्य समाचार