कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
Live Update: बिहार के हर जिला का कोरोना अपडेट, टीकाकरण और टेस्ट का डाटा देखे

छठ घाटों की साफ सफाई का कार्य अंतिम चरण में



संसू, वारिसलीगंज : वारिसलीगंज प्रखंड के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के दर्जनों छठ घाटों की साफ-सफाई का कार्य अंतिम चरण में है। वारिसलीगंज स्थित दो महत्वपूर्ण छठ घाटों शांतिपूरम सूर्य मंदिर व मटकोरवा सूर्य मंदिर तालाब की साफ सफाई नगर पंचायत व मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा संयुक्त रूप से कराया जा रहा है। कार्य लगभग अंतिम चरण में पहुंच चुका है। बता दें कि नगर स्थित दोनों महत्वपूर्ण तालाब में सालों भर शहरवासियों द्वारा फेंकी गई पूजा सामग्री के अलावा गणेश पूजा, दुर्गा पूजा, लक्ष्मी पूजा, सरस्वती पूजा व अन्य पूजा के बाद प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाता है। जिस कारण तालाब में गंदगी का अंबार लगा रहता है। पूजा सामग्री व प्रतिमाओं के बचे हुए अवशेष को निकालकर गंदा हो चुके पानी के स्थान पर ताजा पानी भरने, हरे पानी को साफ करने को ले चुना डालने, मंदिर की रंगाई पुताई का कार्य अंतिम चरण में है। वारिसलीगंज बाजार स्थित दोनों तालाब में बाजार से सटे ग्रामीण क्षेत्र के दर्जनों गांव की छठ व्रती भगवान सूर्य को अर्घ देने पहुंचती है। जिस कारण इन दोनों छठ घाटों पर क्षेत्र के अन्य छठ घाटों के अलावे अत्यधिक भीड़ जमा होती है।

वहीं प्रखंड क्षेत्र के सकरी नदी और पौरा नहर किनारे बसे ग्रामीण नदी और नहर में गड्ढा खोदकर महापर्व छठ के मौके पर भगवान सूर्य को अ‌र्घ्य अर्पित करते हैं। बता दें की कोरोना काल में संपन्न हो रहे छठ के मौके पर प्रशासन के द्वारा शारीरिक दूरी का पालन करते हुए मास्क आदि बचाव के अन्य संसाधनों का प्रयोग करने का निर्देश क्षेत्रवासियों को दिया गया है। साथ ही कुछ क्षेत्रवासी भीड़ भाड़ में संक्रमण फैलने से बचने के लिए छठ घाट जाने के बजाए अपने घरों मे ही वैकल्पिक व्यवस्था कर छठ पूजा संपन्न करने की तैयारी में जुटे हुए हैं।
डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

अन्य समाचार