कोरोना अपडेट
कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

Mirzapur के Munna Bhaiya का खुलासा, इस सीन को करते वक्त हो गए थे बेहद डिस्टर्ब

27 Nov, 2020 10:10 PM | R Kumar 130

ओटीटी प्लेटफॉर्म्स ने एक्टर्स को स्टार बना दिया है. 'प्यार का पंचनामा', 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' और 'बत्ती गुल मीटर चालू' जैसी फिल्मों में नज़र आने के बावजूद दिव्येंदु को वो पहचान नहीं मिली थी जिसके वो हक़दार थे. ऐसे में अमेजन प्राइम वीडियो की वेबसीरीज 'Mirzapur' और 'Mirzapur 2' ने उनके करियर में नई जान फूंक दी. इस सीरीज़ में दिव्येंदु को मुन्ना भैया के किरदार में इतना ज्यादा पसंद किया गया कि वो जाना-माना नाम बन गए. हाल ही में एक इंटरव्यू में दिव्येंदु ने मुन्ना के किरदार को लेकर कई सारी बातें शेयर की हैं.



मुन्ना का किरदार काफी संवेदनहीन, हिंसक और गुस्सैल था. ऐसे में दिव्येंदु ने बताया कि इस किरदार को निभाते-निभाते उनके रियल लाइफ बिहेवियर में भी काफी बदलाव आने लगे थे. दिव्येंदु बोले-ये अच्छी बात नहीं थी कि मैं लोगों को रियल लाइफ में भी वैसे ही ट्रीट करने लग गया था. अगर मुझे कुछ पसंद नहीं आता था तो मैं उन्हें घूर देता था. दिव्येंदु ने ये भी बताया कि सीरीज़ के एक डायलॉग '$%#&*वाले चाचा' का आईडिया भी उन्हीं का था. डायलॉग बोलते-बोलते उन्हें लगा कि इस डायलॉग को ऐसे बोलना चाहिए और फिर उन्होंने बोल दिया. सबको ये काफी पसंद आया. चाचा के किरदार में सीनियर एक्टर थे इसलिए शूटिंग के बाद दिव्येंदु उनके पास गए और पूछा कि आपको बुरा तो नहीं लगा. उस सीनियर एक्टर ने इस बात का बुरा नहीं माना. बाद में यह डायलॉग इतना ज्यादा फेमस हो गया कि उस सीनियर एक्टर ने दिव्येंदु से कहा कि उन्हें अपने कई सालों के पूए करियर में इतनी पहचान नहीं मिली जितनी कि इस डायलॉग से मिल गई.
इस इंटरव्यू में दिव्येंदु सीरीज़ के सबसे डिस्टर्बिंग सीन के बारे में भी बात की. दिव्येंदु ने कहा, बंदूक और मार-धाड़ वाले सीन्स के लिए पहले से कोई तैयारी नहीं करनी पड़ती क्योंकि कई बार ये इमोशनल नहीं होते. लेकिन महिलाओं के साथ कोई सीन हो और उसमें आपको उसे बुरे तरीके से ट्रीट करना हो तो वो बहुत डिस्टर्बिंग होता है. जैसे कि मुन्ना हाउसमेड के साथ बहुत ही खराब व्यवहार करता है तो वो बेहद मुश्किल था. किसी व्यक्ति को बुरा ट्रीट करना बहुत डार्क हो जाता है. ये आपको अंदर से तोड़ देता ही.फिज़िकल एस्पेक्ट तो मैकेनिकल होता है. उसमें कैमरा एंगल का कमाल होता है.मिर्ज़ापुर में हाउसमेड का किरदार प्रशंसा शर्मा ने निभाया है.
#World
#India
#Featured

अन्य समाचार