कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
Live Update: बिहार के हर जिला का कोरोना अपडेट, टीकाकरण और टेस्ट का डाटा देखे

जीआरपी थाना होगा तीन मंजिला, निर्माण कार्य शुरू

- 49 साल से मुसाफिर खाना में चल रहा है थाना का कामकाज



- नये भवन में पदाधिकारी व जवानों की रहने की होगी व्यवस्था
जागरण संवाददाता,नवादा: केजी रेलखंड का दोहरीकरण कार्य तेजी से चल रहा है। दोहरीकरण को लेकर नवादा स्टेशन से पूरब रेलवे की जमीन से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई। करीब तीन दशक से रेलवे की जमीन पर बसे लोगों को हटाया गया था। उस जमीन पर रेल प्रशासन की ओर से नवादा स्टेशन से पूरब रेलवे फाटक के समीप 900 स्कायर मीटर भूमि जीआरपी थाना भवन निर्माण के लिए उपलब्ध कराया गया है। जहां तीन मंजिला जीआरपी थाना भवन का निर्माण होगा। भवन निर्माण को लेकर कार्य आरंभ कर दिया गया है। बता दें कि केजी रेलखंड के नवादा स्टेशन स्थित अंगरेजों के जमाने का मुसाफिर खाना बना है। वर्ष 1971 में जीआरपी थाना की स्थापना की गई। लेकिन थाना के लिए भवन निर्माण नहीं कराया गया। रेल प्रशासन की ओर से थाना संचालन के लिए मुसाफिर खाना को सुपुर्द कर दिया गया। 49 साल से मुसाफिर खाना में थाना का कामकाज चल रहा था। लेकिन विभाग की पहल पर तीन मंजिला जीआरपी थाना भवन निर्माण कराया जा रहा है। भवन निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है।

-------------------------
करीब 1 करोड़ की लागत से होगा भवन निर्माण
- जीआरपी के अधिकारियों ने बताया कि करीब एक करोड़ रूपये की लागत से भवन का निर्माण होना है। थाना भवन निर्माण के लिए बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम को जिम्मेवारी सौंपी गई है। निगम की ओर से भवन निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। फाउंडेशन का कार्य तेजी चल रहा है। वर्ष 2021 तक भवन निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा।
------------------------
नये भवन में थाना होगा शिफ्ट
- जीआरपी के अधिकारी ने बताया कि नये भवन निर्माण होने के बाद थाना को शिफ्ट किया जाएगा। साथ ही हाजत, मालखाना, सशस्त्रगार, मैगजीन आदि को शिफ्ट कर दिया जाएगा। इसके अलावा नये भवन में पदाधिकारी व जवानों की रहने की व्यवस्था होगी।
------------------------
कहते हैं अधिकारी
- नवादा स्टेशन के पूरब रेलवे फाटक के समीप जीआरपी थाना का तीन मंजिला भवन निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। करीब 1 करोड़ की लागत से भवन का निर्माण होगा। बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम को भवन निर्माण की जिम्मेवारी सौंपी गई है। वर्ष 2021 तक कार्य पूरा होने की संभावना है। नये भवन बनने के बाद थाना को पूरी तरह से शिफ्ट कर दिया जाएगा। थाना भवन नहीं रहने से मुसाफिर खाना में कामकाज चल रहा है। भवन की स्थिति काफी जर्जर है। जवानों को भी रहने में परेशानी होती है। विभाग की ओर से नये भवन का निर्माण तेजी से चल रहा है। भवन बनने के बाद जीआरपी के पदाधिकारी व जवानों की परेशानी दूर हो जाएगी।
भरत उरांव, थानाध्यक्ष, जीआरपी, नवादा।
डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

अन्य समाचार