कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
Live Update: बिहार के हर जिला का कोरोना अपडेट, टीकाकरण और टेस्ट का डाटा देखे

डबल मर्डर में पुलिस को नहीं मिला कोई सुराग, हाथ खाली

-हत्या के कारणों का भी पता नहीं लगा सकी पुलिस



----------------------
संवाद सूत्र, रोह (नवादा) : रुपौ थाना क्षेत्र के बेनीपुर जंगल में पिछले दो दिसंबर को हुए दो अलग-अलग गांव के दो मजदूरों की हत्या में अब भी पुलिस खाली हाथ है। हत्याकांड से जुड़े किसी भी आरोपित की गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। वहीं दूसरी ओर पुलिस दावा कर रही है कि सूचना के आधार पर लगातार संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। छापेमारी में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। जल्द ही गिरफ्तारी होगी। अपराधियों की गिरफ्तारी कब तक हो पाती हैं, इस पर सभी की निगाहें टिकी हैं।
जीआरपी थाना होगा तीन मंजिला, निर्माण कार्य शुरू यह भी पढ़ें
बता दें कि कि बेनीपुर गांव के जंगल से पुलिस ने तीन दिसंबर की शाम को दो शव बरामद किया था, जिसमें दोनों लाशों की चिन्हित कर लिया गया बेनीपुर निवासी अशोक राजवंशी भीखमपुर निवासी बच्चू राजवंशी मृतक अशोक राजवंशी कुख्यात चंदन यादव की खेती बारी का देखभाल करता था। इसी दरमियान गांव में चल रहे वर्चस्व की लड़ाई में अशोक राजवंशी की हत्या गला रेतकर कर दी गई। साथ ही जंगल में अपने खेत की रखवाली कर रहे भीखमपुर निवासी बच्चू राजवंशी को भी अपराधियों ने गला रेतकर हत्या कर दी। बेनीपुर गांव में दो दिसंबर को वर्चस्व की लेकर चली गोलीबारी के ही दिन दोनों व्यक्ति को अगवा कर हत्या कर दिया गया था। बदमाशों के तांडव से क्षेत्र के लोग सहम गए थे। तब गोविदपुर क्षेत्र के वर्तमान विधायक मोहम्मद कामरान ने भी घटनास्थल पर जाकर परिजनों को सहयोग का आश्वासन दिया था। थानाध्यक्ष देवेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि वर्चस्व स्थापित करने के लिए कि गई गोलीबारी घटना से ही जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों के सहयोग नहीं मिल पाने से अपराधियों को गिरेबान तक पहुंचने में परेशानी हो रही है। हत्या के मामले की गुत्थी पुलिस की सक्रियता के बाद भी नहीं सुलझ सकी अभी तक एक भी बदमाश की गिरफ्तारी नहीं होना भी पुलिस के दावे पर सवाल खड़ा करती है। हालांकि घटना को लेकर पुलिस सक्रियता दिखाते हुए हर बिदु पर अनुसंधान करने में जुटी है, लेकिन लोगों को निष्कर्ष का इंतजार है। गोली फायरिग से लेकर हत्या तक की घटना की हर बिदुओं पर जांच करने की बात पुलिस कर रही है। घटना के 11 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं।
डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

अन्य समाचार