कोरोना अपडेट
कुल केस: 0
स्वस्थ हुए :
मौत:0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

क्या आप जानते हैं Salman Khan नहीं बल्कि काजोल के इस चाचा ने शुरू किया था फिल्मों में शर्टलेस का ट्रेंड

First Published Mar 9, 2021, 12:29 PM IST



मुंबई. 60 के दशक में चॉकलेटी ब्वॉय के नाम से फेमस जॉय मुखर्जी (joy mukherjee) की आज 9वीं डेथ एनिवर्सरी है। उनका निधन 9 मार्च, 2012 को मुंबई में हुआ था। अपने करियर में एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम करने वाले जॉय मुखर्जी रिश्ते में बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल (kajol) के चाचा लगते हैं। उन्होंने 1960 में आई फिल्म लव इन शिमला (love in shimla) से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद लव इन टोकियो,'जिद्दी, फिर वही दिल लाया हूं और एक मुसाफिर एक हसीना जैसी फिल्मों में काम कर उन्होंने इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाई। जब जॉय मुखर्जी की फिल्म लव इ शिमला रिलीज हुई थी तो लड़कियां उनकी दीवानी हो गई थी।
महज 21 साल की उम्र में भी उनकी फिजिक देखले लायक थी। कम उम्र में अपनी फिटनेस के दम पर उन्होंने उस समय के कई स्टार्स को मात दे दी थी। ऐसा माना जाता है कि सिल्वर स्क्रीन पर शर्टलेस का ट्रेंड सलमान खान ने शुरू किया। लेकिन यह गलत है, जॉय ने 60 के दशक में फिल्मों में शर्टलेट का ट्रेंड शुरू किया था।
जॉय की खासियत थी कि वो कभी भी अपने वर्कआउट को मिस नहीं करते थे। इसके अलावा उन्हें कुश्ती, मुक्केबाजी भी आती थी और वे फुटबॉल भी खेलते थे। फिल्मों में आने के बाद भी खेल में उनकी दिलचस्पी बनी रही।
कहा जाता है कि जॉय मुखर्जी अपने जमाने के सबसे डैशिंग और गुड लुकिंग एक्टर में से एक थे। उन्हें देख हीरोइन ​फिदा हो जाती थीं। लेकिन सायरा बानो ने एक वक्त जॉय के साथ काम तक करने से मना कर दिया था। वो उनकी हरकतों से इतना परेशान हो गई थीं कि उन्होंने एक्टर को पागल आदमी तक कह दिया था।
एक इंटरव्यू में सायरा बानो ने जॉय मुखर्जी के बारे में बात की थी। उन्होंने बताया था कि शुरुआती दिनों में वह जॉय के नेचर से अनजान थीं। इसलिए जब वे उनसे मसखरी करते थे और उन्हें अजीबोगरीब शक्ल बनाकर चिढ़ाते थे तो वह परेशान हो जाती थीं। एक समय ऐसा भी आ गया था जब वो उनके साथ काम करने तक को तैयार नहीं थीं।
उन्होंने एक इंटरव्यू में एक किस्सा शेयर करते हुए बताया था- फिल्म शागिर्द की शूटिंग के दौरान जुहू में एक नारियाल पानी वाले के सामने मेरा एक सीन था। मैं जब भी शॉट देती, जॉय मुझे बार-बार डिस्टर्ब करते। वे मुझे चिढ़ा रहे थे और अजीबोगरीब शक्ल बना रहे थे। वे मुझसे कह रहे थे तुम ये सही से नहीं कर रही हो। जॉय की हरकतों से परेशान होकर मैंने सीधे सुबोध (जॉय के मामा) को अंकल के घर पर भेजा और कहा कि मैं इस पागल आदमी के साथ काम नहीं करुंगी।
जॉय मुखर्जी फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखते थे। उनके पिता शशधर मुखर्जी की शादी अशोक कुमार की बहन सती देवी से हुई थी। शशधर मुखर्जी फिल्मालय स्टूडियोज के सह संस्थापक थे। जॉय मुखर्जी, देब मुखर्जी और शोमू मुखर्जी के भाई थे। शोमू की शादी तनुजा से हुई। इनकी बेटियां काजोल और तनीषा मुखर्जी एक्ट्रेस है। रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी जॉय के चचेरे भाई थे। जॉय मुखर्जी यंग डायरेक्टर अयान मुखर्जी के चाचा लगते है।
जॉय ने बहू-बेटी, हमसाया, कहीं आर कहीं पार, एक बार मुस्करा दो, छैला बाबू, इंसाफ मैं करूंगा, साज और आवाज, ये जिंदगी कितनी हसीन है, एक कली मुस्कराई, औग और दाग जैसी कई फिल्मों में काम किया।

अन्य समाचार