कोरोना अपडेट
कुल केस: 0
स्वस्थ हुए :
मौत:0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

उपद्रव मामले में 22 पर प्राथमिकी, कोचिंग संचालकों की खोज में रोहतास पुलिस कर रही छापेमारी

सासाराम (रोहतास), जागरण संवाददाता। कोरोना गाइडलाइन (Corona Guidelines) के तहत स्‍कूल-कोचिंग संस्‍थान बंद करने के विरोध में शहर में दो दिन पूर्व हुए उपद्रव के मामले में अब पुलिस अब फुल एक्‍शन में है। इस मामले में नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी अभिषेक आनंद के बयान पर शहर के 22 कोचिंग संचालकों के खिलाफ नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। डीएम धर्मेंद्र कुमार के निर्देश पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद नामजद कोचिंग संचालकों में हड़कंप मच गया है। वे फरार हो गए हैं। उनकी खोज में पुलिस अब शिद्दत से लगी है।



इन कोचिंग संस्‍थानों के संचालकों पर नकेल
सदर एसडीपीओ विनोद रावत के अनुसार सुमन फिजिक्स कलासेज, मनीष केमिस्ट्री क्लासेज, कनन इंग्लिश क्लासेज, अनिल माथुर इंग्लिश क्लासेज, गुड्डु मैथमेटिक्स क्लासेज, अभिषेक केमिस्ट्री क्लासेज, मेंटर्स क्लासेज, रत्‍नेश फिजिक्स क्लासेज, एमके मंजीत फिजिक्स क्लासेज, अरुण केमिस्ट्री क्लासेज, ओपी देव फिजिक्स क्लासेज, राजेश केमिस्ट्री क्लासेज, रौशन सर मैथ क्लासेज, सोनू केमिस्ट्री क्लासेज, मां शारदा मैथमेटिक्स क्लासेज, ज्योति प्रकाश फिजिक्स क्लासेज, ऑक्सब्रिज इंग्लिश क्लासेज, विद्यासागर फिजिक्स क्लासेज, राजीव इंग्लिश क्लासेज, गुरु द्रोणा केमिस्ट्री क्लासेज व कुमार देश दीपक क्लासेज के संचालक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इनके अलावा 23 छात्रों को भी नामजद किया गया है।
16 उपद्रवियों को पहले ही भेजा जा चुका है जेल
इस मामले में पुलिस ने 16 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेज दिया है। एसपी आशीष भारती ने बताया कि फिलहाल गौरक्षणी समेत अन्य इलाकों में पुलिस बल की तैनाती जारी रखी गई है। दो दर्जन से अधिक कोचिंग संस्थानों को सील कर दिया गया है। वीडियो फुटेज के आधार पर अन्य उपद्रवियों की शिनाख्त की जा रही है। मालूम हो कि कोचिंग संस्‍थान बंद किए जाने की घोषणा के बाद कोचिंग संचालकों व छात्रों ने जमकर उत्‍पात मचाया था। शहर में काफी देर तक अफरातफरी की स्थिति बनी रही थी। गुस्‍साए छात्रों की वजह से पूरा शहर अस्‍त-व्‍यस्‍त बना रहा।

अन्य समाचार