कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
Live Update: बिहार के हर जिला का कोरोना अपडेट, टीकाकरण और टेस्ट का डाटा देखे

इजरायल मुद्दे पर ट्रोलर्स ने घेरा तो भड़क उठीं कंगना, बोलीं- बेटा मैं सभी बापों की मां हूं, औकात में रहना

First Published May 17, 2021, 3:13 PM IST



मुंबई। अपनी बेबाकी के लिए मशहूर कंगना रनोट (Kangana Ranaut) अक्सर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर रहती हैं। हाल ही में कंगना ने इंस्टाग्राम स्टोरी पर इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे युद्ध को लेकर अपनी बात रखी थी। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करते हुए कहा था कि वे इजरायल के बारे में कुछ नहीं जानतीं। अब कंगना ने एक वीडियो (जिसमें इजरायल के बारे में बताया गया है) शेयर करते हुए ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया है।
कंगना ने अपनी सोशल मीडिया स्टोरी में लिखा- जैसा कि आप वीडियो में देख सकते हैं कि इजरायल कैसे बना था। यह नाजायज देश नहीं है। यहूदियों ने इसे अंग्रेजों के बाद यूएन (संयुक्त राष्ट्र) के हस्तक्षेप से बसाया।
कंगना ने आगे लिखा- 6 मुस्लिम देशों ने इजराइल के बनते ही उन पर हमला किया। तब से लेकर हर हमले के बाद उनकी ज्यादा से ज्यादा जमीन पर वो कब्जा कर रहे हैं। क्योंकि जब आप युद्ध जीतते हैं तो यही होता है। उनके लिए, जो यहां रो रहे हैं और कह रहे हैं कि मैं कुछ नहीं जानती, बेटा मैं सभी बापों की मां हूं। औकात में रहकर बात करना आगे से।
कंगना ने आगे लिखा- यदि हम लकड़बग्घे के तर्क का रोना रोएं तो भारत में सिर्फ हिंदू, अमेरिका में रेड हेड्स और ऑस्ट्रेलिया में सिर्फ आदिवासी होने चाहिए। यहूदियों को नाजायज कहने की आपकी हिम्मत कैसे हुई? क्या दुनिया में उनकी कोई जगह नहीं है? बेवकूफ बनाकर रखा है सारी दुनिया को।
कंगना ने कहा- गुंडागर्दी करना चाहते हैं, लेकिन जब सामने से कोई और करे तो रो-रोकर छाती पीटते हैं। सारी दुनिया सिर पर उठा ली। बिकाऊ मीडिया और मूर्ख लोगों को यूज करके झूठे नैरेटिव चला रहे हैं। शर्म कर लो। तुम्हारी पोल सारी दुनिया में खुल गई है। और मेरे बारे में कुछ बोलोगे तो नंगा कर दूंगी।
जब इजरायल ने फिलिस्तीन परा हमला किया तो कंगना ने इसका समर्थन किया था। उन्होंने अपनी सोशल मीडिया स्टोरी में लिखा था- अपने देश और लोगों को कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद से बचाने के लिए यह हर एक देश का मौलिक अधिकार है। भारत इजरायल के साथ खड़ा है। जिन्हें लगता है कि आतंकवाद का जवाब धरना और कड़ी निंदा से देना चाहिए, उन्हें इजरायल से सीखने की जरूरत है।
कंगना ने आगे लिखा था- वो आतंकवाद फैलाएंगे। लेकिन आप मजबूती से इसका जवाब देंगे तो फिर रोना रोएंगे और विक्टिम बन जाएंगे। अगर आप सिर्फ धरना देंगे तो वे आपकी संसद और फाइव स्टार होटल्स पर हमला करेंगे। यह आपके लिए भी कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद है। हालांकि, कंगना के इन बयानों के बाद कई यूजर्स ने उन्हें बददिमाग, कुंठित और इस्लामोफोबिक बताया था।
एक यूजर ने कंगना के लिए लिखा था- मुझे नहीं लगता कि तुम्हे फिर कभी आतंकवाद के बारे में बात करनी चाहिए, क्योंकि यह पाखंड है। तुमने आज जो चीजें पोस्ट की हैं, वे आतंकवाद, नाजीवाद और हत्याओं की तरह तुम्हारा मैल दिखाती हैं। जो तुमने कहा, वही आतंकवाद भी कहेगा। तुम्हे शर्म आनी चाहिए कि तुम मासूमों की हत्या करने वालों का समर्थन कर रही हो। इससे फर्क नहीं पड़ता कि तुम किसे जमीन का हकदार बता रही हो, बल्कि इससे पड़ता है कि तुम बेगुनाहों की हत्याओं को सही बता रही हो।
इससे पहले क्रिकेटर इरफान पठान ने कंगना रनोट के उस तंज पर पलटवार किया था, जिसमें उन्होंने उन पर पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा पर अपना नजरिया न रखने के लिए निशाना साधा था। दरअसल, हाल ही में जब इजरायल ने फिलिस्तीन पर हमला किया तो इरफान ने फिलिस्तीन के सपोर्ट में पोस्ट की थी। कंगना ने इसे लेकर ही उन्हें निशाने पर लिया और पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा को लेकर कोई पोस्ट न करने को लेकर सवाल उठाया था।
इस पर इरफान ने सोशल मीडिया में लिखा था- मेरी सभी पोस्ट या तो इंसानियत के लिए थीं या फिर देश के लोगों के लिए। यह उस आदमी का नजरिया था, जिसने उच्च स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व किया है। इसके उलट मुझे कंगना जैसे लोगों, जिनका अकाउंट नफरत फैलाने की वजह से सस्पेंड किया जा चुका है और कुछ और ऐसे ही पेड अकाउंट्स से सुनना पड़ा, जो सिर्फ नफरत फैलाते हैं।

अन्य समाचार