कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

पंजाबः सिद्धू का समर्थन कर रहे विधायकों पर गिरेगी कैप्टन की गाज, फिर से खुलवाई जा रहीं फाइलें

पंजाब में सत्तारुढ़ कांग्रेस पार्टी में अंदरुनी खींचतान जारी है. नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) के तेवर में कोई नरमी नहीं दिख रही है. सूत्रों का कहना है कि सिद्धू का खुलकर समर्थन कर रहे विधायकों के खिलाफ एक्शन ले सकते हैं.



पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot singh Sidhu) के साथ खुले तौर पर दिखाई दे रहे विधायकों के खिलाफ खुली फाइलों को लेकर अब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह एक बार फिर से कार्रवाई करने के मूड में हैं.
मोगा के कस्बा बाघापुराना के विधायक दर्शन बराड़ (Darshan Barar) पर आरोप है कि उन्होंने पंजाब के होशियारपुर में अवैध तरीके से सरकारी जमीन पर क्रैशर लगा रखा है और लगातार अवैध माइनिंग करके पंजाब सरकार को करोड़ों रुपये का चूना लगा चुके हैं.
इसे भी --- पंजाबः नवजोत सिंह सिद्धू की शुक्रवार को होगी अध्यक्ष पद पर ताजपोशी, CM कैप्टन अमरिंदर को देंगे न्योता
दिसंबर 2020 में दर्शन बराड़ को इसी मामले को लेकर माइनिंग विभाग की तरफ से नोटिस भेजा गया था और एक करोड़ 65 लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया गया था.
कैप्टन से कर चुके हैं माफी की गुहार तब से लेकर अब तक दर्शन बराड़ लगातार कैप्टन अमरिंदर सिंह पर इस जुर्माने को माफ करने और नोटिस वापस करवाने का दबाव बना रहे थे, लेकिन जब कैप्टन ने ऐसा नहीं किया तो दर्शन खुलकर नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थन में आ गए.
अब एक बार फिर से कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दर्शन बराड़ की यही जुर्माने वाली फाइल फिर से खोलने की तैयारी कर ली है और आने वाले दिनों में दर्शन बराड़ पर माइनिंग विभाग की तरफ से दबाव बनाया जा सकता है और कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है.

अन्य समाचार