कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

पटना के एनएमसीएच में वायरल बुखार से तीन बच्‍चों की मौत, पीएमसीएच में शिशु वार्ड के बेड फुल

पटना, जागरण टीम। Viral fewer in Children: पटना के नालंदा मेडिकल कालेज सह अस्पताल (एनएमसीएच) में सोमवार रात से मंगलवार शाम तक वायरल फीवर से तीन बच्चों की मौत हो गई। अब तक यहां छह बच्चों की वायरल फीवर के कारण निमोनिया से मौत हो चुकी है, जबकि 24 का इलाज चल रहा है। एनएमसीएच, पीएमसीएच, एम्स और आइजीआइएमएस में मंगलवार को 70 से अधिक वायरल संक्रमित इलाज कराने पहुंचे। इनमें से पीएमसीएच में आठ, आइजीआइएमएस में तीन लोगों को भर्ती किया गया। पीएमसीएच में पिकू के सभी बेड भरे हुए हैं, जबकि एनएमसीएच में 10 बेड खाली हैं। आपको बता दें कि बिहार के कई जिलों में बच्‍चों में वायरल फीवर का प्रकोप बढ़ गया है। इसको लेकर गोपालगंज और मुजफ्फरपुर जैसे जिलों में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने एक सर्वे भी कराया है।



एनएमसीएच में 74 बच्चे भर्ती
एनएमसीएच के अधीक्षक डा. विनोद कुमार सिंह ने बताया कि 12 सितंबर को भर्ती बेऊर के अखरा निवासी एक वर्ष के बच्चे की मौत मंगलवार की सुबह हो गई। वहीं, 10 सितंबर को भर्ती खगडिय़ा के तीन माह के बच्चे और सोमवार को भर्ती वैशाली सराय की ढाई माह के बच्चे की मौत सोमवार रात को हुई। अब तक निमोनिया से एनएमसीएच में छह बच्चों की मौत हो चुकी है। मंगलवार को निमोनिया पीडि़त एक बच्चे को भर्ती किया गया। देरशाम तक कुल 24 बच्चे भर्ती थे।
25 बच्‍चे स्‍वस्‍थ होकर गए घर
अब तक यहां इमरजेंसी, निकू-पिकू में वायरल निमोनिया संक्रमित 59 बच्चे भर्ती हुए हैं। इनमें से 25 बच्चे स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। चार बच्चों को उनके स्वजन बिना अस्पताल प्रशासन को सूचित किए दूसरी जगह ले गए हैं। अधीक्षक ने बताया कि वायरल निमोनिया संक्रमित बच्चों के इलाज अस्पताल में बेड, पर्याप्त मात्रा में दवाएं, आक्सीजन व अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं। शिशु विभाग में निमोनिया समेत अलग-अलग बीमारियों से पीडि़त कुल 74 बच्चों का इलाज चल रहा है। जिन आवश्यक दवाइयों की कमी है, उसके लिए आला अधिकारियों और बीएमएसआइसीएल को पत्र लिखा गया है।
पीएमसीएच में पिकू फुल, आठ नए भर्ती
पीएमसीएच के शिशु रोग की ओपीडी में मंगलवार को 70 बच्चे पहुंचे। इनमें से आठ वायरल निमोनिया से पीडि़त बच्चों को भर्ती किया गया। इसके साथ ही वायरल संक्रमित बच्चों की संख्या 54 हो गई है। मंगलवार को किसी बच्चे को डिस्चार्ज नहीं किया गया है।
एम्स ओपीडी में पहुंचे 156 में से 16 वायरल संक्रमित
एम्स के शिशु रोग विभागाध्यक्ष डा. लोकेश तिवारी ने बताया कि मंगलवार को ओपीडी में 156 बच्चे आए थे। इनमें से 16 को वायरल था, लेकिन कोई भर्ती करने लायक नहीं थे। बताते चलें कि यहां कुल 68 बच्चे भर्ती हैं। इनमें से तीन वायरल निमोनिया से संक्रमित हैं।
आइजीआइएमएस में मिले 18 संक्रमित, तीन भर्ती
आइजीआइएमएस के शिशु रोग विभाग की ओपीडी में 62 बच्चे इलाज कराने आए थे। इनमें से 18 में वायरल इंफेक्शन पाया गया। इनमें से तीन बच्चे वायरल निमोनिया से पीडि़त थे, उन्हें भर्ती किया गया है।

अन्य समाचार