कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
A:सीजन सेल में लैपटॉप और मोबाइल पर पाए 50 % तक डिस्काउंट, click करे लिंक पर
F: सीजन सेल में पाए 70% डिस्काउंट , हर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पर, click करे लिंक

दुर्गा अष्टमी 2021: मां के साथ सेल्फी लेने का क्रेज, मेले में लगे झूले और खेल-खिलौने, देखें पूर्णिया की रौनक

जागरण संवाददाता, पूर्णिया। Durga Ashtami 2021: यूं तो यह ट्रेंड नया नहीं है, लेकिन अब रफ्तार कुछ ज्यादा तेज हो गई है। मां के दर्शन, पूजा और फिर मां के साथ सेल्फी का क्रेज सिर चढ़कर बोल रहा है। यूथ ही नहीं, अब बड़े भी सेल्फी के क्रेज में सराबोर दिखाई दे रहे हैं।
सीजन सेल में लैपटॉप और मोबाइल पर पाए 50 % तक डिस्काउंट, click करे लिंक पर



इंटरनेट मीडिया पर सक्रिय भइया-भाभी हो या चाचा-चाची सभी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ली गई सेल्फियां अपलोड करते दिखाई दे रहे हैं। पूर्णिया में स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं के आसपास ऐसे युवाओं के साथ-साथ महिला पुरुषों की भीड़ दिखाई दी। जागरण ने उनकी सेल्फी लेते हुए तस्वीरें अपने कैमरे में कैद की। यहीं नहीं मेले से भी शानदार तस्वीरें आई हैं।

(ये क्या बड़े दिमागी हो? पजल पर हाथ...साल्व कर लेगा डुग्गू, आखिर बिहार का है)
बुधवार को शहर के विभिन्न मंदिरों व पूजा पंडालों में खोइंचा चढ़ाने को उमड़ी भीड़ के बीच यह क्रेज आयोजकों के लिए भी परेशानी का सबब बना रहा। पूजा के बाद सेल्फी की होड़ से मंदिर के अंदर भीड़ हर सीमा तोड़ने लगी थी।

(हमको फोर व्हीलर चाहिए पापा)
मेले में कोराना गाइड लाइन के ध्वस्त होने की स्थिति भी आयोजकों को बेचैन कर रही थी। एक पूजा समिति के पदाधिकारी के अनुसार यह स्थिति ठीक नहीं है। इससे सच्चे श्रद्धालु की परेशानी अब बढ़ने लगी है।

(लकड़ी की काठी-काठी का घोड़ा, लंबे समय बाद मिला झूला...)
दो साल की बंदिशें टूटीं!
कोरोना के कारण दो साल से महापर्व दशहरा की धूम भी पूरी तरह गुम रही थी। लोगों को घर से निकलने का मौका नहीं मिला था। मंदिरों में मां के दर्शन से लेकर मेला का आनंद उठाने से भी लोग वंचित रह गए थे।

(हो-हो अबकी मेले में ये भी है)
कोरोना लाकडाउन के बाद अब ताजा स्थिति में लोगों के अंदर दबा उत्साह इस बार उफान पर है। अष्टमी के दिन से ही मंदिरों व पूजा पंडालों में भीड़ उमड़ने लगी है। इस लिहाज से नवमी व दशमी को अपार भीड़ उमड़ने की संभावना है।

अन्य समाचार