कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:
A:सीजन सेल में लैपटॉप और मोबाइल पर पाए 50 % तक डिस्काउंट, click करे लिंक पर
F: सीजन सेल में पाए 70% डिस्काउंट , हर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पर, click करे लिंक

विधिक जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन

संवाद सूत्र, राघोपुर (सुपौल): प्रखंड कार्यालय परिसर में अनुमंडलीय विधिक सेवा समिति वीरपुर के तत्वावधान में तस्करी और वाणिज्यिक यौन शोषण पीड़ितों के लिए विधिक सेवा विषयक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन बुधवार को किया गया। विदित हो कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर विभिन्न विषयों को लेकर विभिन्न स्थानों पर नालसा के आदेश से 02 अक्टूबर महात्मा गांधी जयंती से कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। समाज के कमजोर और वंचित समुदाय को न्याय सुगम हो इस उद्देश्य से कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।
सीजन सेल में लैपटॉप और मोबाइल पर पाए 50 % तक डिस्काउंट, click करे लिंक पर



कार्यक्रम का नेतृत्व वरीय पैनल अधिवक्ता प्रभाकर सिंह कर रहे थे। अधिवक्ता सिकंदर आलम, पारा विधिक स्वयंसेवक पंचम नारायण सिंह, अरुण कुमार, शांतनु शेखर, संगीता कुमारी, हीरा गुप्ता, चंदा कुमारी, कल्याणी कुमारी आदि कार्यक्रम में सक्रिय थे। पंचम नारायण सिंह ने तस्करी और वाणिज्यिक यौन शोषण की गंभीरता को समाज के सामने रखा। उन्होंने कहा कि समाज में मानव तस्करी होना बहुत बड़ा अपराध है, यह इलाका भारत-नेपाल का सीमा क्षेत्र है जहां आये दिन मानव तस्करी की घटना से हम रोज रूबरू होते हैं। मानव तस्करी के कई आयाम हैं जिसे समझना और रोकथाम के लिए संवेदनशील होना हमारे समाज की जिम्मेदारी है। हम जागरूकता के स्तर को जितना बढाएंगे उतना ही हम इस सामाजिक कलंक को दूर हटा सकते हैं। वरीय पैनल अधिवक्ता ने कहा कि नालसा की यह योजना तस्करी और वाणिज्यिक यौन शोषण पीड़ितों के लिए विधिक सेवायें योजना 2015 कही जाती है। विधिक सेवा के माध्यम से तस्करी और वाणिज्यिक यौन शोषण से पीड़ितों को बचाव के समय तथा उसके बाद केस की सुनवाई में कानूनी सहायता उपलब्ध कराई जाती है। इस अवसर पर व्यवहार न्यायालय कर्मी संजय कुमार गुप्ता, सुरेंद्र राम भी मौजूद थे।

अन्य समाचार