कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

Facebook ने Metaverse की वजह से बदला है नाम, जानिए क्या हैं इसके पीछे का मकसद

नई दिल्ली

सोशल मीडिया जाइंट Facebook ने अपनी कंपनी का नाम बदलकर Meta रख लिया। अब कंपनी सिर्फ सोशल मीडिया तक सीमित नहीं रहेगी। नए नाम के जरिए Facebook कंपनी ने अपने आप को रिब्रांड नई टेक्नोलॉजी Metaverse के लिए किया है। फेसबुक इससे पहले घोषणा कर चुकी थी कि वो ऑगमेंटेड और वर्चुअल रियलिटी के लिए अलग से फाइनेंशियल रिजल्ट पब्लिश करेगा। इससे वो अपने प्रोजेक्ट Metaverse में कई अरब रुपये इन्वेस्ट करेगी। इसके पीछे की वजह फेसबुक का एडवरटाइजिंग बिजनेस का कम होना बताया गया है।इस समय टेक्नोलॉजी और बिजनेस में Metaverse कॉन्सेप्ट काफी तेजी से पॉपुलर हो रहा है। Metaverse काफी बड़ा टर्म है। Metaverse वर्चुअल वर्ल्ड एनवायरमेंट है जिसको लोग इंटरनेट के जरिए इस्तेमाल कर सकते हैं।आपको बता दें कि Metaverse वर्ड का यूज गेमिंग वर्ल्ड को बताने के लिए भी किया जाता है। यूजर के पास इसमें एक कैरेक्टर होता है जो चल सकता है और दूसरे प्लेयर्स के साथ रियल वर्ल्ड की तरह इंटरएक्ट भी कर सकता है। एक स्पेसिफिक टाइप का भी Metaverse होता है जो ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का यूज करता है। इसमें यूजर्स वर्चुअल लैंड और दूसरे डिजिटल एसेट्स को क्रिप्टोकरेंसी से खरीदे जा सकते हैं।कई साइंस-फिक्शन मूवीज और बुक्स वर्चुअल वर्ल्ड एनवायरमेंट या Metaverse पर बनी हैं। Metaverse के फैन्स इसे इंटरनेट डेवलपमेंट का अगला स्टेज मानते हैं। Metaverse से एक नया ऑनलाइन स्पेस बनाया जाएगा। इस स्पेस में लोग रियल दुनिया की तरह एक-दूसरे से इंटरएक्ट कर पाएंगे।मेटावर्स से आप वर्चुअल वर्ल्ड में जा सकते हैं। यहां पर आप अपने फ्रेंड्स या रिलेटिव से बातचीत करके उनके साथ घूमने समेत शॉपिंग कर सकते हैं। Metaverse में आप खुद का घर-गाड़ी खरीद कर उसे बिल्कुल रियल दुनिया की तरह यूज कर सकते है।

अन्य समाचार