कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

अध्ययन सुमन-स्टारर बेखुदी को लेकर डायरेक्टर अमित कसारिया ने की बात

अमित ने इस रोमांटिक थ्रिलर को लेकर खुलकर बात की कहा बेखुदी मेरे पास तब आई जब मैं यह समझने की कोशिश कर रहा था कि रोमांटिक फिल्में एक सेट पैटर्न का पालन क्यों करती हैं। हीरो नायिका से मिलता है, प्यार में पड़ता है, टूट जाता है फिर वापस वे मिलते हैं कहानी का अंत हो जाता है। मेरे हिसाब से इस शैली के साथ काफी रचनात्मक हुआ जा सकता है।

वह समझाते हैं कि यह एक संवेदात्मक फिल्म है जो अन्य रोमांटिक फिल्मों से अलग है। अमित ने कहा कि मैं कहानी में एक आदमी के ²ष्टिकोण को लाना चाहता था। एक रात वह उसके अतीत के बारे में सबको सब कुछ बताता है। वह पारिवारिक झगड़ों में उलझा रहता है। मेरे हिसाब से ऐसी फिल्म बनाने का प्रयास कभी नहीं किया गया है। यह एक इंटरैक्टिव फिल्म है यह रोमांच से भरी है। यह फिल्म मनोरंजन रोमांच का एक अच्छा मिश्रण है।
अमित ने इस फिल्म पर 2018 में काम करना शुरू किया था, लेकिन महामारी के कारण रिलीज में देरी हुई। हमने 2019 में फिल्मांकन शुरू कर दिया था। हम साल के अंत तक फिल्म रिलीज करने वाले थे, लेकिन महामारी ने सब काम रोक दिए थे। फिल्म को खत्म करने में 10 महीने लग गए थे, लेकिन महामारी के कारण फिल्म रिलीज नहीं हो पाई थी।
बेखुदी में अध्ययन सुमन, एंजेल अनुराग शर्मा हैं। इस फिल्म के कलाकारों संगीत के बारे में बात करते हुए, अमित का कहना है कि संगीत उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक है उन्हें कुछ बेहतरीन गायक मिले हैं।
पूरी फिल्म को दिल्ली एनसीआर में शूट किया गया है, जिसमें मुख्य ²श्यों को नोएडा गुड़गांव में फिल्माया गया है। फिल्म के सेकेंड हाफ की शूटिंग नैनीताल में हुई है।
डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

अन्य समाचार