कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

अवैध खनन रोकने गई पुलिस टीम पर हमला, चार गिरफ्तार

संवाद सहयोगी, रतनी फरीदपुर, जहानाबाद :

जिले में बालू माफिया का आतंक सिर चढ़कर बोल रहा है। आलम है कि बालू के अवैध खनन में खलल डालने पहुंची पुलिस को भी बालू माफिया निशान बनाने से नहीं चुकते। ऐसी ही मामला शकुराबाद थाना क्षेत्र में सामने आया है। बालू के अवैध खनन की सूचना पर पहुंची पुलिस को बालू माफिया के गुर्गों ने घेरकर पथराव शुरू कर दिया। हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। पुलिस को उनके चंगुल से निकलने के लिए अतिरिक्त बल बुलाना पड़ा, जिसके बाद हल्का बल प्रयोग कर पुलिस वहां से निकली। पुलिस ने मौके से बालू माफिया के चार गुर्गों को भी गिरफ्तार किया है।

------------------------
पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर उपद्रवियों को खदेड़ा
रुस्तमचक से दक्षिण ज्ञानीविगहा पुल के पास बलदैया नदी से बालू के अवैध उत्खनन की गुप्त सूचना पर थानाध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद पुलिस बल के साथ पहुंचे थे। वहां अवैध खनन में लगे तीन ट्रैक्टर व एक जेसीबी को पुलिस ने जब्त कर लिया। पुलिस को देखकर चारों वाहन के चालक बालू गिराकर भागने लगे थे, पुलिस ने तीन को खदेड़कर ज्ञानीविगहा देवी स्थान के पास दबोच लिया। जबकि एक चालक फरार हो गया। तीनों ट्रैक्टर व जेसीबी समेत हिरासत में लिए गए तीनों चालक को लेकर पुलिस थाने लौट रही थी, तभी सरैया बाजार के पास एकाएक 30-40 की संख्या में लोगों ने पुलिस को चारों तरफ घेर लिया और जब्त वाहन समेत हिरासत में लिए गए चालकों को छोड़ने का दबाव बनाने लगे। जब्त वाहनों को जबरन ले भागने का प्रयास करने लगे। विरोध करने पर पुलिस के साथ हाथापाई शुरू कर दी। मौके की नजाकत देख थानाध्यक्ष ने आसपास के थानों को सूचना देकर तुरंत अतिरिक्त पुलिस बल बुला लिया। यह देख उपद्रवियों ने पुलिस बल पर ईंट पत्थर से हमला कर दिया। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर उपद्रवियों को खदेड़ दिया। किसी तरह मामला शांत कर पुलिस सभी जब्त वाहनों को साथ लेकर थाने पहुंची। साथ ही तीन चालक समेत एक उपद्रवी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इनमें उपद्रवी गया जिले के कोंच थाना अंतर्गत खाबड़ा गांव निवासी मनोज कुमार, चालक नंद किशोर कुमार, चिरैयाटांड़ गांव निवासी कमलेश यादव व हरना गांव निवासी रामरेखा मांझी शामिल हैं।
सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में पतियावां गांव निवासी धीरेंद्र कुमार, मंटू यादव व मखदुमपुर थाना क्षेत्र के निरपुर गांव निवासी संतोष यादव के खिलाफ नामजद समेत 30-40 अज्ञात लोगों के विरुद्ध शकुराबाद थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। अज्ञात उपद्रवियों की पहचान और गिरफ्तारी के लिए पुलिस आसपास के इलाकों में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। थानाध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद ने बताया कि बालू के अवैध के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

अन्य समाचार