कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

बेलदौर में सरकारी दर पर नहीं हुई है एक किलो भी गेहूं की खरीद

संवाद सूत्र, बेलदौर (खगड़िया): गेहूं अधिप्राप्ति का समय निकलता जा रहा है। गेहूं अधिप्राप्ति के 24 दिन बीत जाने के बाद भी पैक्स एवं व्यापार मंडल द्वारा बेलदौर प्रखंड में एक किलो भी गेहूं की अधिप्राप्ति नहीं हुई है। एक पखवारा में निर्धारित लक्ष्य 10 हजार क्विटल गेहूं खरीद को लेकर संशय है। जानकारी के मुताबिक गेहूं का मार्केट मूल्य पैक्स से करीब दो सौ रुपये प्रति क्विटल ज्यादा रहने के कारण किसान पैक्सों को गेहूं देने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक सहकारिता विभाग द्वारा बेलदौर के 16 पैक्सों एवं एक व्यापार मंडल में 24 दिनों बाद भी गेहूं अधिप्राप्ति नहीं हुई है। जबकि विभाग द्वारा बेलदौर प्रखंड क्षेत्र में कुल उत्पादन 83,195 क्विटल के बाबत करीब 10 हजार क्विटल गेहूं खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। सहकारिता विभाग द्वारा रबी विपणन मौसम 2022-23 में किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं अधिप्राप्ति करने हेतु 20 अप्रैल से 31 मई 2022 तक अवधि निर्धारित की गई है। गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2015 रुपये प्रति क्विटल निर्धारित है। किसानों की माने तो सामान्य रूप से मार्केट में 22 सौ से 23 सौ रुपये प्रति क्विटल पर वे गेहूं बेच रहे हैं। दाम भी तुरंत मिलता है। पैक्स वार लक्ष्य क्विंटल में चोढ़ली 421, इतमादी 631, कुर्बन 1010, दिघौन 1212, बेला नौवाद 442, बेलदौर 631, सकरोहर 631, पचौत 442, बोबिल 673, महिनाथ नगर 380, डुमरी 821, बलैठा 842, तेलिहार 606, पीरनगरा 336, माली 357, कंजरी पैक्स 568 एवं बेलदौर व्यापार मंडल को 1112 क्विटल गेहूं अधिप्राप्ति करने का लक्ष्य निर्धारित रखा गया है।


बीसीओ जितेंद्र कुमार ने बताया कि गेहूं का बाजार मूल्य ज्यादा रहने के कारण किसान पैक्स को गेहूं देने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। इसलिए अभी तक एक किलो भी गेहूं खरीद नहीं हो पाई है।

अन्य समाचार