कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

राहगीरों को लूटपाट की नीयत से पहुंचे शातिर को ग्रामीणों ने दबोचा

समस्तीपुर। मुफस्सिल थाना क्षेत्र के गरुआरा चौर के समीप समस्तीपुर-पूसा मुख्य मार्ग में शुक्रवार रात लूटपाट की नियत से राहगीरो को निशाना बना रहे एक शातिर को ग्रामीणों ने पीछा कर दबोच लिया। जबकि, दो अन्य युवक अंधेरे का लाभ उठाकर भाग निकले। घटनास्थल पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। आक्रोशित लोगो ने पकड़े गए युवक की धुनाई कर दी। इसके बाद स्थानीय ग्रामीणों ने सूचना देकर पकड़े गए शातिर को मुफस्सिल थाना के पुलिस टीम के हवाले कर दिया। उसकी पहचान मुफस्सिल थाना के चकनूर गांव के वार्ड 07 निवासी सत्यनारायण पासवान के पुत्र विकास कुमार के रूप में हुई है। जानकारी के अनुसार गुरुवार रात गरुआरा चौर के समीप समस्तीपुर-पूसा मुख्य मार्ग में कुछ असामाजिक तत्व लूटपाट की नियत से जुटे थे। वे सभी राह चल रहे एक ई रिक्शा चालक को निशाना बनाने का प्रयास किया। इसी बीच शोर-शराबे की आवाज हुई। स्थानीय ग्रामीण सजग हुए और एकत्रित होकर सड़क पर निकले। राह चलते लोगों ने घटनास्थल की ओर इशारा किया। ग्रामीणों ने पीछा कर एक युवक को दबोच लिया। जबकि, दो अन्य व्यक्ति अंधेरे का लाभ उठाकर भाग निकले। आक्रोशित लोगो ने पकड़े गए शातिर की धुनाई कर दी और सूचना देकर स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस द्वारा पूछताछ में पकड़े गए आरोपित ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की। पुलिस को अपने सहयोगियों का नाम सद्दाम व सोहन पासवान बताया, जो उस वक्त आरोपित के साथ घटनास्थल पर मौजूद थे। घटना के प्रत्यक्षदर्शी गरुआरा गांव के सावन कुमार द्वारा स्थानीय थाना में एक आवेदन देकर पकड़े गए आरोपित के विरुद्ध शिकायत दर्ज कराई है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि आए दिन छिनतई की घटनाएं हो रही है। पकड़े गए शातिरों का दुस्साहस है कि पहले सड़क पर लोहे का सरिया लगाकर वाहन चालकों को रोकते हैं। फिर रुकते ही राहगीरों को निशाना बना लेते हैं। थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य ने बताया कि आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज कर अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है। पकड़े गए आरोपित को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। साथ ही अन्य आरोपितों की तलाश जारी है।


अन्य समाचार