कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

अनाज कम तौलकर की जा रही उपभोक्ताओं की हकमारी



संवाद सूत्र, कुमारखंड (मधेपुरा) : प्रखंड क्षेत्र में जनवितरण प्रणाली की व्यवस्था दिनोंदिन खस्ता होती जा रही है। क्षेत्र में अनाज वितरण को लेकर आए दिन उपभोक्ताओं द्वारा हंगामा होता है।
जानकारी के अनुसार जनवितरण के दुकानदारों को विभाग द्वारा पूरा राशन देने के बाद भी समुचित राशन आमजन तक नहीं पहुंच पा रहा है। इसका कारण यह है कि जनवितरण प्रणाली के दुकानदार लोगों के लिए आया राशन का काफी हिस्सा अवैध तरीके से बेच देते हैं। इसके बाद लोगों को अनाज कम तौल कर दिया जाता है। इसको लेकर ग्रामीणों ने बताया कि अफसरों की मिली भगत के कारण ही काफी अनाज पहले ही बेच दिया जाता है। इससे आमलोगों को कम राशन दिया जा रहा है। बताते चलें कि राशन का उठाव के समय गोदाम में संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति होना अनिवार्य है लेकिन बिना अधिकारियों की उपस्थिति में ही सारा कार्य किया जा रहा है। इस वजह से पीडीएस डीलरों को अनाज को कालाबाजारियों के हाथ में बेचने का मौका मिल जाता है। उसका खामियाजा आमजनों को भुगतना पड़ रहा है। प्रखंड क्षेत्र में अब तक 48 हजार से अधिक राशन कार्ड का राशन का उठाव डीलरों द्वारा करके खाद्यान्न को डीलरों द्वारा सीधे बाजार में बेच दिया जाता था। क्षेत्र इससे संबंधित 3926 से भी अधिक मामला है। मामले की शिकायत राजद अध्यक्ष अरूण कुमार के नेतृत्व में ग्रामीणों ने जिला आपूर्ति पदाधिकारी से की है।

कोट घटतौली व राशन वितरण में गड़बड़ी की जानकारी नहीं है। इस संबंध में शिकायत मिलने पर जांच कराई जाएगी। -प्रभाष कुमार, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी, कुमारखंड

अन्य समाचार