कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

शिक्षकों को एकजुट होकर संघर्ष करने की जरूरत



संवाद सूत्र, बिहारीगंज (मधेपुरा) : मुख्यालय स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय में बुधवार को बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ की बैठक प्रखंड अध्यक्ष प्रभाषचन्द्र भास्कर की अध्यक्षता में हुई।
बैठक में बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू ने कहा कि शिक्षक देश के भविष्य को संवारने में जुटे हुए हैं, लेकिन सरकार शिक्षकों की समस्याओं के समाधान के प्रति उदासीन हैं। उन्होंने कहा कि मांगों को पूरा कराने को ले शिक्षकों को एकजुट होकर संघर्ष करने की आवश्यकता है। नवनियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति के तीन माह उपरांत भी वेतन भुगतान नहीं होना चिता का विषय है। नव प्रशिक्षित शिक्षकों का अंतर राशि का बकाया, 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि अप्रैल 2021 से दिसंबर 2021 तक का बकाया वेतन व मातृत्व अवकाश अवधि का वेतन भुगतान अभी तक नहीं किया जाना विभाग की मनमानी का द्योतक है। मृत शिक्षकों के आश्रितों को अनुकंपा पर अभिलंब बहाली व अनुग्रह अनुदान की राशि भुगतान, नवगठित नगर पंचायत एवं नगर परिषद में पदस्थापित शिक्षकों को शहरी आवास भत्ता का भुगतान, 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि में कनीय व वरीय शिक्षक के वेतन विसंगति दूर करने और दक्षता के आधार पर वेतन की विभिन्न त्रुटियों को दूर करने में विभाग विफल हैं। प्रखंड अध्यक्ष प्रभाष चंद्र भास्कर ने कहा कि आज तक संघर्ष के बदौलत ही उपलब्धि हासिल हुई है। डीपीओ स्थापना के कार्यालय के समक्ष 11 जून से अनिश्चितकालीन धरने में प्रखंड के शत-प्रतिशत शिक्षक-शिक्षिकाएं भाग लेंगे। बैठक में प्रखंड सचिव अजय कुमार, कोषाध्यक्ष मु. सजाबुल, रमेश कुमार, अमित कुमार, राजेश राही, गंगाधर राम, अखिलेश कुमार, राजीव कुमार, प्रमोद कुमार, अताबुल खां आदि उपस्थित थे।

अन्य समाचार