कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

कोसी से सूबे में भेजा जाएगा विभिन्न किस्मों के आम

संस, सहरसा : एक जिला-एक उत्पाद के तहत सहरसा जिला के नवहट्टा प्रखंड में जहां मखाना की खेती को बढ़ावा दिया जा है, वहीं आम उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए उद्यान विभाग ने सिमरी बख्तियारपुर समेत जिले में भर बड़े पैमाने पर विभिन्न किस्मों के आम का पौधा लगाने की रणनीति बनाया है। चालू वित्तीय वर्ष में जिले में 15 हेक्टेयर में आम का पौधा लगाया जाएगा। प्रमंडल के अन्य जिलों में भी विभाग के सौजन्य से लगभग पचास हजार आम का पौधा लगाने का अभियान तेज किया गया है। आम का उत्पादन बढ़ने पर इस इलाके से राज्य के विभिन्न भाग में आम भेजा जाएगा। इससे इलाके की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।


----------
आम लगाने पर पचास फीसद का मिलेगा अनुदान
---
उद्यान विभाग ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में 15 हेक्टेयर भूमि में विभिन्न प्रजाति का आम के पौधारोपण की रणनीति बनायी है। इस योजना के तहत आम का पौधा लगाने वाले किसान को लागत मूल्य का पचास फीसद राशि किसान के खाते में विभाग द्वारा भेजा जाएगा। विभाग इस योजना के लिए किसानों को जागरूक करने में लगा है।
----
केला की खेती के लिए भी दिया जाएगा 75 फीसद अनुदान
----
कोसी क्षेत्र के किसानों को परंपरागत खेती से अलग कर आमदनी बढ़ाने के लिए उद्यान विभाग ने जी- 9 नस्ल के केला की खेती कराने की भी योजना तैयार की है। चालू वित्तीय वर्ष में जिले में 25 हेक्टेयर में केला की खेती कराने की योजना बनाई गई है। इस योजना के तहत 75 फीसद अनुदान पर किसानों के खेत तक केला का पौधा पहुंचाने की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए किसानों से आवेदन प्राप्त किया जा रहा है।
-------
एक जिला एक उत्पाद के तहत जहां मखाना की खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है। वहीं इस जिले में आम की खेती को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। किसानों को आम की खेती के लिए विभाग द्वारा पचास फीसद अनुदान भी दिया जाएगा। इससे इलाके में इसका उत्पादन बढ़ने की संभावना बनेगी। केला की खेती के लिए भी 75 फीसद अनुदान पर केला का पौधा उपलब्ध कराने की योजना बनाई गई है।
राहुल रंजन, सहायक निदेशक, उद्यान, सहरसा।

अन्य समाचार