कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

पलासी पटेगना में जलजमाव की समस्या का विभाग ने लिया जायजा

सूचना पर पहुंचे पथ निर्माण विभाग के अधिकारी को पीड़ित ग्रामीणों ने क्षति का कराया मुआयना, जल्द समस्या निदान के लिए किए अपील

अररिया कुर्साकांटा मुख्यमार्ग के हाई स्कूल पलासी के समीप दबंगई दिखाकर काजवे को मिट्टी भरकर जल निकास मार्ग को किया अवरुद्ध
बड़ी आबादी व फसल को हो रही भारी नुकसान
संवाद सूत्र ताराबाड़ी(अररिया): अररिया कुर्साकांटा मुख्यमार्ग के हाई स्कूल पलासी पटेगना के समीप जलजमाव की समस्या को दैनिक जागरण में लगातार खबर प्रकाशित होने के बाद प्रशासनिक महकमे हरकत में आ चुका है। बुधवार को समस्या निदान के लिए पहल शुरू कर चुके हैं। पथ निर्माण विभाग के अधिकारी अररिया कुर्साकांटा मुख्यमार्ग के मुआयना तथा मुख्यमार्ग के आसपास जल जमाव के समस्या का जायजा ले रहे थे। इसी बीच अररिया कुर्साकांटा मुख्यमार्ग के पलासी हाई स्कूल से आगे चूड़ा मिल के समीप बंद किए गए काजवे को खुलवाने के लिए प्रयास किया गया। लेकिन दबंग अनारचंद सिंह व उनके स्वजन एक ना सुनी तथा अधिकारियों से उलटे उलझ गए। वहीं पीड़ित ग्रामीणों ने खेतों में लबालब भरे पानी तथा हो रहे फसल क्षति का आकलन करवाया। इतना ही नहीं पीड़ितों ने गुहार लगाते कहा कि जल्द बंद काजवे को जिला प्रशासन नहीं खुलवाया तो वे लोग बड़ी आंदोलन करेंगे। गौरतलब हो की अररिया प्रखंड के किस्मत खवासपुर पंचायत के हाईस्कूल टोला पलासी, मंडल टोला पलासी, तेगछिया, काली मंदिर टोला पलासी, पुरैनी, गिलहबाड़ी, मंडल व यादव टोला पटेगना सहित आधा दर्जन गांवों के किसानों के सैकड़ों एकड़ से अधिक भूमि जलमग्न हो चुका है। साथ हीं बड़े पैमाने पर धान रोपनी के लिए लगाए गए बिचड़ा भी गलकर बर्बाद गो गया है। पीड़ित किसानों ने पिछले सात जून को जिला पदाधिकारी को आवेदन देने के बावजूद भी अब तक कोई पहल नहीं की जा सकी है। दिए आवेदन में ग्रामीणों ने कहा है कि अररिया कुर्साकांटा मुख्य मार्ग के हाईस्कूल चौक पलासी से दक्षिण चुड़ा मील के समीप रज्जन सिंह के पुत्र अनारचंद सिंह ने मुख्य सड़क में बने काजवे को मिट्टी भरकर जबरन बंद कर दिया है। जिसके बाद बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। काजवे के बंद होने से मुख्य मार्ग के पूरब तरफ सैकड़ों एकड़ भूमि में बारिश का पानी लबालब भरा है। साथ हीं इसमें लगे फसल पूरी तरह बर्बाद हो चुका है।

अन्य समाचार