कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

शिक्षकों की समस्याओं का समाधान होने तक जारी रहेगा संघर्ष : प्रदीप



संवाद सूत्र, गम्हरिया (मधेपुरा) : प्रखंड संसाधन केंद्र में शनिवार को शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं को लेकर शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू ने शिक्षकों के साथ बैठक की। इस मौके पर विभिन्न समस्याओं से रूबरू हो कर निदान के लिए संघर्ष करने का आह्वान किया। बैठक की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्षता अशोक कुमार ने की। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नवनियुक्त शिक्षकों के वेतन भुगतान, अप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन भुगतान, नव प्रशिक्षित शिक्षकों के अंतर वेतन बकाया, महिला शिक्षिकाओं के मातृत्व अवकाश अवधि का वेतन भुगतान, 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि का बकाया राशि भुगतान साथ ही कनीय वरीय का वेतन विसंगति दूर करने समेत दक्षता आधारित शिक्षकों का वेतन को नियम विरूद्ध कम करने जैसे विभिन्न समस्याओं समस्याओं का निदान किया जाये, जितनी जल्दी हो सके सभी मांगों पर विचार कर लागू करें। 30 जून 2022 तक शिक्षकों के तमाम लंबित मामले का निष्पादन हो जाये। प्रदेश अध्यक्ष ने स्पष्ट कहा कि बीआरसी स्तर पर शिक्षकों का बड़े पैमाने पर आर्थिक मानसिक शारीरिक शोषण की जाती है। इसे रोकने की आवश्यकता है। जिला सचिव भुवन कुमार ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं को निदान करना उनकी प्राथमिकता है। इसको लेकर संघ सतत संघर्षरत है। शिक्षक एकजुट रहे और अपनी समस्याओं को संघ के समक्ष बेहिचक रखने का काम करें। ताकि उनकी तमाम समस्याओं का समाधान कराने में संघ खरे उतर सके। बैठक में मुख्य रूप से भूपेंद्र यादव, ललित कुमार विद्योत्तमा कुमारी, चंद्रमुखी कुमारी, देवी कुमारी, संजीव कांत, विजय पंडित, मणि भूषण, श्याम यादव समेत कई शिक्षकगण मौजूद थे।

अन्य समाचार