कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

बिहारीगंज रेलवे स्टेशन की अतिक्रमित भूमि जल्द करनी होगा खाली



संवाद सूत्र, बिहारीगंज (मधेपुरा) : पूर्व मध्य रेलवे समस्तीपुर रेल मंडल के बिहारीगंज रेलवे स्टेशन की खाली भूमि पर अवैध अतिक्रमणकारियों ने दुकान व घर बना लिया है। विभाग ने ऐसे घरों व दुकानों को चिह्नित किया है। साथ ही हटाने का निर्देश दिया है। सीनियर सेक्शन इंजिनीयर ओपेन लाइन प्रकाश कुमार ने अतिक्रमित भूमि की नापी कर अतिक्रमणकारियों को नोटिस दिया है। साथ ही सात दिनों के अंदर दुकान व घरों को हटा लेने का निर्देश दिया है। सेक्शन इंजीनियर ने बताया कि निर्माणाधीन रैंक प्वाइंट प्लेटफार्म पर वाहनों को जाने के लिए सड़क निर्माण कार्य कराया जाना है। अतिक्रमण की वजह से निर्माण कार्य में बाधा उत्पन्न हो रही है, जबकि पूर्व में भी अतिक्रमणकारियों को अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस दिया गया था। इसके बावजूद किसी ने भी नोटिस पर अमल नहीं किया है। इसलिए इस बार आखिरी चेतावनी दी जा रही है। वहीं एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अरविन्द कुमार आर्या ने बताया कि वरीय पदाधिकारी रेलवे की खाली भूमि से अतिक्रमण हटाने को लेकर काफी गंभीर है। विभागीय स्तर से अवैध अतिक्रमणकारियों को स्वेच्छा से अतिक्रमित भूमि खाली करने के लिए सलाह दी जा रही है। इसके बावजूद अतिक्रमित भूमि खाली करने में कोताही बरती जा रही है। अतिक्रमित भूमि समय से खाली नहीं किए जाने पर दंडाधिकारी की उपस्थिति में बुलडोजर चलाकर अतिक्रमित दुकानों व घरों को हटा दिया जाएगा। इस दौरान संबधित लोगों के विरूद्ध केस दर्ज कर जुर्माना वसूल किया जाएगा। सीनियर सेक्शन इंजीनियर निर्माण रामानंद कुमार रमण ने बताया कि रेलवे स्टेशन की सुंदरीकरण को लेकर रेलवे की भूमि से पूरी तरह अतिक्रमण हटाया जाएगा। उन्होंने बताया कि लगभग एक हजार स्क्वायर मीटर भूमि पर अतिक्रमण है। इसमें से कुल 15 लोगों का रसीद कट रहा है। इनके द्वारा बकाया राशि का भुगतान करने पर विभागीय स्तर से निर्धारित भूमि उपलब्ध कराई जाएगी। बाकाया राशि भुगतान नहीं करने वालों का घर व दुकानें तोड़कर जब्त कर लिया जाएगा। रेल प्रशासन के कार्रवाई से अतिक्रमणकारियों के बीच हड़कंप मचा हुआ है। वर्षो से फुटकर व्यवसाय से जुड़े लोगों को रोजी- रोटी की चिता सताने लगी है।

अन्य समाचार