कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

श्रावन महोत्सव में न्यू माडर्न स्कूल के नन्हें कलाकारों ने गीत-संगीत से बांधा समा

श्रावन महोत्सव में न्यू माडर्न स्कूल के नन्हें कलाकारों ने गीत-संगीत से बांधा समा

जागरण संवाददाता, नवादा: श्रावण मास की पवित्रता, भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन एवं 75वें स्वतंत्रता दिवस को संयुक्त रूप से समर्पित एक भव्य कार्यक्रम श्रावण महोत्सव का आयोजन न्यू माडर्न इंग्लिश स्कूल, न्यू एरिया के बहुद्देश्यीय सभागार में किया गया। जिसमें नर्सरी से छठी कक्षा तक के विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। विद्यालय के नन्हें-नन्हें कलाकारों ने अपनी एक से बढ़कर एक गीत, संगीत एवं नृत्य की प्रस्तुति से सभी दर्शकों को मुग्ध कर दिया। देशभक्ति एवं पारंपरिक लोकगीतों ने मन मोहा, निदेशक ने प्रतिभा को सराहा श्रावण महोत्सव का विधिवत शुभारंभ माडर्न शैक्षणिक समूह के निदेशक डा. अनुज कुमार, बैंकर्स एसोसिएशन के अधिकारी सुरेंद्र प्रसाद सिंह एवं विद्यालय की प्राचार्या वीना बरनवाल के द्वारा संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित करके किया गया। इस अवसर पर निदेशक ने सभी अभिभावकगण एवं दर्शकों को आज़ादी के अमृत महोत्सव, आगामी 75वें स्वतंत्रता दिवस एवं रक्षाबंधन की अग्रिम शुभकामनाएं देते हुए कहा कि माडर्न स्कूल शिक्षा के साथ संस्कार देने में विश्वास रखता है। यहां के कार्यक्रमों में फूहड़ गीत-संगीत को कभी जगह नहीं मिलती है। महोत्सव में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे सभी बाल-कलाकारों ने अत्यंत मनमोहक प्रस्तुति दी है। देशभक्ति एवं पारंपरिक लोकगीतों की धून पर सराहनीय प्रदर्शन किया है। इस महोत्सव में बच्चों के द्वारा प्रस्तुत भगवान शिव के गीतों और नृत्य ने सबके हृदय में भक्ति की धारा को प्रवाहित की है। पैकेजिंग बोल बम के गीत से अंश आर्य ने माहौल को किया भक्तिमय कार्यक्रम का मंच-संचालन सुप्रिया, खुशी, आकृति, प्राची, विष्णु प्रिया, साक्षी प्रिया, रिशु, ऋषभ, पलक, सानिया, सौभ्या, दिव्या, शिवानी, दीपांजलि, अंशु प्रिया, अनुराग एवं प्रणव ने किया। गणपति वंदना एवं बोल बम के गीत से अंश आर्य ने संपूर्ण माहौल को भक्तिमय कर दिया । रिद्धि गुप्ता ने पनिया के जहाज से गीत पर अपने नृत्य की प्रस्तुति देकर दर्शकों की खूब तालियां बटोरी। पापा मेरे पापा गीत पर अंशिका सिंह, अनन्या, अदिति, अलीशा, वैष्णवी, अनुष्का आदि ने बेहतरीन प्रस्तुति की। फिर भी दिल है हिंदुस्तानी देशभक्ति गीत पर प्रिया, अनुभूति सिंह, शांभवी, अनन्या, सुशांत, आरव आदि ने बेहतरीन नृत्य प्रस्तुत करके दर्शकों का दिल जीत लिया। इनके अलावा रिद्धि स्नेहिल, सुरभि तान्या, अनुभव जानवी, स्नेहा काव्या, सानवी गुंजन, आर्य, मान्या, साक्षी, पीहू, आराध्या, सिगम, रिद्धिमा, आयुष, अक्षय, हिमांशु, सूरज, स्वर्णिम, मयंक व सार्थक आदि ने पारंपरिक लोकनृत्य एवं देशभक्ति हिंदी गीतों की धुन पर नृत्य की प्रस्तुति के द्वारा कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। इनके अलावा अपने सुमधुर गायन से सौम्या, चाहत, रिया, सिंड्रेला, आकांक्षा, ईशा, सिमरन, प्राची, अदिति, निशा, संजना, अर्पिता, प्रिया, रिद्धिमा, वंशिका, वैष्णवी, साइना, आरुषि, साक्षी, दक्षा, अनमोल, अक्षत आदि ने भगवान शिव के भक्तिपूर्ण भजनों, कांवरिया गीत, देशभक्ति गीतों, कजरी और अन्य बरसाती लोकगीतों के द्वारा सभी को भावविभोर होकर झूमने पर मजबूर कर दिया। उपस्थित दर्शकों ने कार्यक्रम को खुले दिल से सराहा और नन्हे-मुन्ने कलाकारों के बेहतरीन प्रस्तुतियों की खुले दिल से भूरी भूरी प्रशंसा की। कार्यक्रम के समापन के पश्चात सभी प्रतिभागियों को मेडल देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में पुरुषोत्तम सर, पवन सर, अनिल सर के साथ माधवी, स्वीटी, अंजलि, सफीका, कृष्णा मैम, अनुमेहा मैम, रिचा, वंदना मैम, कुणाल कुमार, मनीष पांडेय, सुशील कुमार, संजीव कुमार आदि की सक्रिय भूमिका सराहनीय रही।
स्काउट गाइड के बच्चों ने झंडा के साथ निकाली जागरूकता रैली यह भी पढ़ें

अन्य समाचार