कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

उग्रनाथ महादेव का 80 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक

मधुबनी । सावन माह की अंतिम सोमवारी पर प्रखंड क्षेत्र के सभी शिवालय बोल बम तथा ओम नम: शिवाय के जयकारों से गूंज उठे। बोल बम का नारा है बाबा एक सहारा है के जयकारे आधी रात से ही शिवालयों के आसपास गूंजने लगे थे। प्रखंड के भवानीपुर स्थित उग्रनाथ महादेव मंदिर, सरिसब पाही स्थित सिद्धेश्वर नाथ महादेव, विक्रमपुर बलिया स्थित भैरव बाबा, भौर स्थित झालेश्वर नाथ महादेव, भगवतीपुर स्थित भुवनेश्वर नाथ एवं जागेश्वरनाथ महादेव, नवहथ स्थित जटेश्वर नाथ महादेव, कनकपुर स्थित कर्णेश्वर नाथ महादेव, नवटोल स्थित कल्याणेश्वर नाथ महादेव मंदिर सहित अन्य शिवालयों में हजारों लोगों ने भगवान शिव का जलाभिषेक करते हुए पूजा-अर्चना किया। भवानीपुर स्थित उग्रनाथ महादेव मंदिर परिसर में रविवार की शाम से ही कांवरियों का जत्था आने लगा था। मंदिर परिसर स्थित धर्मशाला में रविवार की रात तीन हजार से अधिक कांवरियों व श्रद्धालुओं के लिए भंडारे का आयोजन किया गया था। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह दो बजे से जलाभिषेक शुरू किया गया। अंतिम सोमवारी रहने के कारण शाम पांच बजे तक जलाभिषेक करने वालों की लंबी कतारें लगी रही। अंतिम सोमवारी पर जलाभिषेक के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस प्रशासन से लेकर मंदिर कमेटी के सदस्यों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। दिनभर पूजा-अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की कतार एक किमी लंबी लगी रही। मंदिर प्रबंध समिति के अनुसार अंतिम सोमवारी पर लगभग 80 हजार लोगों ने जलाभिषेक व पूजा-अर्चना किया। द्वितीय जिला अपर सत्र न्यायाधीश , बीडीओ, सीओ व पुलिस पदाधिकारियों ने भी अपने परिवार के साथ भवानीपुर पहुंच उग्रनाथ महादेव की पूजा-अर्चना की। परिसर में मेला भी लगा रहने से लोग खरीददारी में भी जुटे रहे। मेले में झुले, चाय, नाश्ता, मिठाई, खिलौने, मीना बाजार सहित अन्य दुकानें भी लगाई गई थी। रविवार की रात 12 बजे से ही निर्धारित जगहों पर दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी सुरक्षा बलों के साथ तैनात हो गए थे। सीओ नंदन कुमार, बीडीओ डा. अभिजीत चौधरी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद चौधरी, प्रखंड श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी मिहिर कुमार, सकरी थानाध्यक्ष अमृत कुमार साह, एसआइ सपन कुमार, विमल कुमार सिंह, सुरेंद्र यादव व नेहा निधि, एएसआइ अभय कुमार सिंह, रामजी, परमानंद जार्डन, भोला पासवान, अशोक कुमार चौधरी व राजू कुमार सहित दर्जनों पुलिसकर्मी तैनात थे। मंदिर प्रबंध समिति के सचिव गणेश नारायण ठाकुर, मुखिया रुद्रकांत झा, सरपंच रंजीत मंडल, पूर्व मुखिया जीवछ यादव, रोहित यादव, मोनू झा, राघवेन्द्र झा व शिशिर झा सहित दर्जनों कार्यकर्ता तत्पर रहे।


अन्य समाचार