कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

श्री कृष्ण जन्माष्टमी आज, मंदिरों में उमड़ेगा आस्था का सैलाब

श्री कृष्ण जन्माष्टमी आज, मंदिरों में उमड़ेगा आस्था का सैलाब

सीतामढ़ी। दो साल की कोरोना की खामोशी के बाद इस साल शुक्रवार 19 अगस्त को श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर श्री राधा कृष्ण मंदिर सहित विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ काफी रहेगी। शहर के एसएल के कालेज से सटे स्थित श्री राधा कृष्ण मन्दिर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव की तैयारी जोरों पर है। श्री सीतामढ़ी गौशाला में स्थित भगवान गोपाल कृष्ण मन्दिर, खेमका कालोनी में स्थित श्री श्याम मंदिर और गुदरी रोड स्थित श्री रामविलास मंदिर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर संध्या से भजन कीर्तन का आयोजन है। श्री श्याम मंदिर में मुजफ्फरपुर से आए कलाकार मनमोहन सोनी व राजीव सोनी गायन करेंगे और रात्रि बारह बजे श्री कृष्ण जन्मोत्सव पर केक काटा जाएगा। इसको लेकर महिलाओं और बच्चों में पूरा उत्साह है। जन्माष्टमी को लेकर बाजार में बढ़ी भीड़ : इस साल बाजार में भी जन्माष्टमी के सामान के खरीदार अच्छी संख्या में दिखाई दे रहे हैं। शहर के गुदरी बाजार स्थित दुकानों में सिंघाड़ा का आटा 400 रुपये किलो बिक रहा है। वहीं मिठाई दुकानों में बेसन व गोद का लड्डू 200 से 700 रुपये किलो बिक रहा है। काजू की बरफी 1200 रुपये प्रति किलो मिल रहा है। सेब 100 से 130 रुपये किलो, केला 50 से 60 रुपये दर्जन, नारियल डाभ 50 से 60 रुपये प्रति पीस बिक रहा है। घरों में भी तैयार किए जा रहे प्रसाद और व्यंजन: श्री कृष्ण का जन्म रात्रि 12 बजे होता है, इसलिए महिलाएं घर में विविध प्रकार के प्रसाद और व्यंजन की तैयारी जन्माष्टमी के दिन ही करती है। कोट बाजार की प्रो.ज्योति सुंदरका ने बताया कि प्रसाद में धनिया और अजवायन की पंजीरी और गोंद व मूंगफली के व्यंजन भी होते हैं। अभी वर्षा ऋतु के समय ये सामान लाभप्रद है। जब मां बच्चे को जन्म देती है तो धनिया, अजवायन, गोंद, मूंगफली आदि जच्चा- बच्चा दोनों के स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद होते हैं। इसलिए घर में बड़े बुजुर्ग इसे खाने के प्रेरित करते हैं। अंचल गली की मनीषा बताती हैं कि अब बाजार में पीसा हुआ धनिया मिल जाता है। पहले की तरह साफ करना, धोना, सुखाना, भुनना और पीसना नहीं पड़ता है। इससे भक्त को अन्य दैनिक कार्यों के साथ साथ पूजा -पाठ करने में आसानी होती है। श्री राधा कृष्ण मंदिर के श्री कृष्ण जन्माष्टमी आयोजन समिति के अध्यक्ष पूर्व सांसद सीताराम यादव बतातें हैं कि श्री कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर व्यापक तैयारी की गई है। जन्मोत्सव के बाद भजन-कीर्त्तन व महिला श्रद्धालुओं द्वारा बधाई गीत का आयोजन किया जाएगा।

अन्य समाचार