छपरा- इंटर के परीक्षार्थियों ने हंगामे के बाद लगाया जाम; पुलिस ने लाठियां भांजी, फूट-फूटकर रोते रहे छात्र-छात्राएं

01 Feb, 2024 03:35 PM | Saroj Kumar 679

बिहार में इंटरमीडिएट की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं। गुरुवार को परीक्षा का पहला दिन था। प्रदेश में अलग-अलग जगहों से परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं मिलने को लेकर हंगामे की सूचनाएं मिल रही हैं। इस बीच बिहार के छपरा (सारण) जिले में भी छात्र-छात्राओं के हंगामे और पुलिस के लाठियां भांजने की सूचना आई है। छात्र-छात्राओं ने इसे लेकर चेतावनी भी दी है।


सारण जिले में बीएसईबी इंटरमीडिएट परीक्षा के पहले दिन गुरुवार को शहर के कई केंद्रों पर अभिभावकों और परीक्षार्थियों ने जमकर हंगामा व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। देरी से आनेवाले परीक्षार्थियों को प्रवेश नहीं देने पर मामला बिगड़ गया था। छात्राओं ने सड़क जाम कर यातायात बाधित कर दिया। पुलिस ने जाम को हटवाने के लिए बल प्रयोग करते हुए लाठियां भांजी।



परीक्षार्थी पुलिस प्रशासन से अंदर जाने की गुहार लगाते रहे। इस दौरान कोई परीक्षार्थी फूट-फूट के रो पड़े। शहर के ब्रजकिशोर किंडर गार्डन, छपरा सेंट्रल पब्लिक स्कूल, जगलाल राय महाविद्यालय सहित कई केंद्रों पर अफरा-तफरी की स्थिति रही।


परीक्षार्थियों और उनके अभिभावकों ने बताया कि जिला स्कूल केंद्र पर 9.20 बजे के बाद आने वाले परीक्षार्थियों को मेन गेट पर रोक दिया गया। ब्रजकिशोर केंद्र पर तो 50 छात्राओं को वापस भेज दिया गया।


प्रवेश नहीं दिए जाने से परीक्षार्थी एवं अभिभावकों ने जमकर हंगामा किया। परीक्षा केंद्र पर 11.30 बजे तक अफरा-तफरी की स्थिति रही। मौके पर पुलिस पहुंचकर मामले को शांत करने का प्रयास किया। 



इन परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थी है उनके अभिभावक


केंद्राधीक्षक व दंडाधिकारी से बार-बार अनुरोध के बावजूद परीक्षा में शामिल नहीं होने दिया गया। अभिभावक और परीक्षार्थियों का कहना था कि कि जाम के कारण उन्हें परीक्षा केंद्र पर आने में विलंब हुआ, इसके लिए उन्हें क्यों जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। इस दौरान परीक्षार्थियों ने प्रवेश द्वार को धक्का देकर खोलने का भी प्रयास किया।


हालांकि, काफी हो-हंगामे के बाद भी केंद्रों पर विलंब से आने वाले परीक्षार्थियों को प्रवेश की अनुमति नहीं मिली। परीक्षार्थियों का कहना था कि दूसरी पाली की परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को केंद्र पर प्रवेश नहीं करने देंगे। 


अतिरिक्त पुलिस कर्मी भेजे गए


छात्रों एवं अभिभावकों की भीड़ एवं हंगामा बढ़ने की आशंका को देखते हुए केंद्रों पर अतिरिक्त पुलिसकर्मी भेजे गए हैं। छपरा सेंट्रल स्कूल परीक्षा केंद्र पर करीब आधे घंटे तक परीक्षार्थियों ने हंगामा किया। यहां 30 परीक्षार्थियों को प्रवेश करने नहीं दिया।


उल्लेखनीय है कि कदाचार मुक्त परीक्षा के संचालन को लेकर सारण समेत सभी जिलों में नौ बजे के बाद परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। ताकि परीक्षार्थी अपने साथ एडजेक्टिव क्वेश्चन का आंसर साथ लेकर केंद्र पर प्रवेश न कर सकें।


हालांकि, परीक्षा केंद्रों पर त्रि-स्तरीय जांच के बाद ही परीक्षार्थियों को हर में प्रवेश करने की अनुमति दी जाती है। इसके लिए सभी परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा बलों को तैनात भी किया गया है।


 


 


News & Photo source -  Dainik Jagran news

अन्य समाचार