पहले दरोगा और अब फ्लाइंग ऑफिसर, सीवान के लाल का कमाल अपने पहले प्रयास में पाई सफलता

05 May, 2024 06:22 PM | Saroj Kumar 79

आज हम बिहार के सीवान जिले के ऐसे शख्स की हम बात करने जा रहे हैं. जिसकी सफलता की दास्तान इन दिनों सीवान की गलियों में गूंज रहा है. दरअसल हम फ्लाइंग ऑफिसर अंकेश कुमार सिंह की बात कर रहे हैं. यह वही अंकेश कुमार सिंह है, जो पहले सब इंस्पेक्टर बने और अब वह फ्लाइंग ऑफिसर बन सीवान को गौरवान्वित किया है.
सीवान के गुठनी बाजार निवासी बृजभान सिंह के पुत्र अंकेश कुमार सिंह का चयन वायु सेना में फ्लाइंग आफिसर के पद पर हुआ है. जानकारी के अनुसार अंकेश कुमार सिंह ने आल इंडिया में 78वां रैंक हासिल किया है. वही एसआई के बाद फ्लाइंग ऑफिसर बनने पर परिजनों में खुशी का माहौल है.
अंकेश कुमार सिंह ने सीवान के गुठनी स्थित माडर्न मिशन पब्लिक स्कूल से मैट्रिक तथा गुठनी स्थित आदर्श विकास विद्यालय से इंटर की शिक्षा ग्रहण की. इसके बाद 2016 में जेई की परीक्षा तथा 2020 में बीटेक पासआउट करने के बाद वायु सेना की तैयारी में लग गए. उन्होंने वायु सेना की परीक्षा 5 अगस्त, 2023 को दी थी, जिसका रिजल्ट अब जाकर आया है.
अंकेश कुमार के पिता वर्तमान में गोपालगंज के हथुआ थाना में दरोगा (एसआइ) के पद पर कार्यरत हैं. अपने पिता को देखकर ही अंकेश कुमार ने सबसे पहले दरोगा की तैयार की. उन्हें पहले प्रयास में ही सफलता हाथ लगी और एसआई बन गए. वही अंकेश के मन मे एकाएक विचार आया कि वे भारत माता की सेवा करने के लिए सेना में जाएंगे और ऐसा ही हुआ. पहले ही प्रयास में एग्जाम निकल गया और वे फ्लाइंग ऑफिस बन गए.
अंकेश कुमार ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि अपने लक्ष्य के प्रति सजगता व एकाग्रता के साथ कठिन परिश्रम की बदौलत ही सफलता मिलती है. उन्होंने  इस उपलब्धि के पीछे पिता का हाथ और मां का आशीर्वाद है. आपको बता दें कि अंकेश के दो बहन व दो भाई हैॆ. ये दो भाइयों में बड़े हैं. 

अन्य समाचार