कोरोना अपडेट
कुल केस
0
स्वस्थ हुए
0
मौत
0
हर राज्य के कोरोना अपडेट के लिए क्लिक करे

बड़े अंधविश्वासी है बॉलीवुड के ये सितारे, ये पहनती है 10 अंगूठियां

29 Oct, 2020 01:07 PM | R Kumar 14

दोस्तों गुज़रे ज़माने में भी कई बड़े बड़े सितारे रहे जिन्होंने अपने अभिनय से बॉलीवुड इंडस्ट्री भी खास पहचान बनाई है और अपने अभिनय की एक अलग छाप छोड़ी और किसी और किसी और का भी किस्मत बनाई है। आज हम आपको इसी से जुड़ा एक ऐसा किस्सा बताने जा रहे है जिसने अमिताभ बच्चन को सदी के महानाय अहम किरदार निभाया है।



आपको बता दे की जिस अभिनेता की बात यहाँ बात हो रही है उन्होंने एक समय में ना सिर्फ कई सुपरहिट फिल्मों के लिए डायलॉग लिखे बल्कि कई सुपरहिट फिल्मों में अपने अभिनय से लोगों का दिल भी जीत लिया था। वो अभिनेता है दिव्यगत अभिनेता कादर खान। 31 दिसंबर 2018 को अलविदा कह चुके कादर खान आज भले ही हमारे बीच नहीं रहे।
बता दे की कादर ख़ान उन चंद हुनरमंदों में शुमार होते हैं, जिनमें बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं। अपने पांच दशकों से ज़्यादा लम्बे करियर में कादर ख़ान ने तक़रीबन हर तरह के किरदार को पर्दे पर पेश किया, विलेन बने, कॉमेडी की और चरित्र रोल भी निभाये। मगर, उनकी सबसे अधिक चर्चा उनके ख़ास तरह के संवादों के लिए होती है, जिनमें वक़्त और दौर की ज़रूरत के साथ ज़िंदगी का एक फलसफा छिपा रहता था। भूख, ग़रीबी, भ्रष्टाचार पर एक टिप्पणी होती है।
साल 1973 में राजेश की फिल्म 'दाग' से बॉलीवुड की फिल्मों में अभिनय की शुरुवात करने वाले कादर खान को अभिनेता राजेश खन्ना ने ही अपनी फिल्म 'रोटी' के डायलॉग लिखने का मौका दिया था। करीब 300 से भी ज्यादा फिल्मों में अभिनय करने और करीब 250 से भी ज्यादा फिल्मों के लिए डायलॉग लिखने वाले कादर खान के जीवन में एक ऐसा समय भी आया था जब उन्हें कोई काम नहीं दे रहा था और जो काम उनके पास पहले से था उसे भी छीन लिया गया। इसकी वजह कोई और नहीं बल्कि सदी के महानायक अमिताभ बच्चन थे।
वैसे तो अमिताभ बच्चन और कादर खान ने एक साथ कई फिल्मों के लिए काम किया है और अमिताभ बच्चन को सदी का महानायक बनाने में कादर खान का बहुत बड़ा योगदान रहा है। अमिताभ के बाद कादर खान ऐसे शख्स थे जिन्होंने मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा इन दोनों के साथ काम किया था। कादर खान ने कुली, देश प्रेमी, सुहाग, परवरिश, मिस्टर नटवरलाल, अमर अकबर एंथोनी, शराबी, लावारिस, मुकद्दर का सिकंदर, खून पसीना, दो और दो पांच, सत्ते पे सत्ता, इंकलाब, गिरफ्तार, हम और अग्निपथ जैसी फिल्मों के लिए डायलॉग लिखे थे।
कादर खान ने इंटरव्यू के दौरान बताया था कि एक दक्षिण भारत के निर्माता ने उन्हें अपनी फिल्म में डायलॉग राइटर का काम के लिए बात करने के लिए बुलाया था। उस निर्माता ने कादर खान को कहा कि 'आप जाकर सर जी से मिल लो।' इस पर कादर खान के पूछे जाने पर कि 'ये सर जी कौन है', तो उस निर्माता ने अमिताभ बच्चन की ओर इशारा करते हुए कहा कि 'क्या आप सर जी को नहीं जानते? अरे अमिताभ बच्चन।' कादर खान ने ये सुनते ही उस निर्माता से पूछ लिया कि 'ये सर जी कब से हो गए?' फिल्म इंडस्ट्री के सभी लोगों ने तब तक अमिताभ बच्चन को 'सर जी' कहकर बुलाना शुरू कर दिया था। कादर खान ने साफ़ कह दिया था कि 'मैं अमिताभ को अमित कहकर ही बुलाता हूं और दोस्तों को घरवालों को कभी भी इस तरह से संबोधित नहीं किया जाता है।'

अन्य समाचार