कोरोना (India)
कुल केस:
स्वस्थ हुए :
मौत:

निरीक्षण में बंद मिले विद्यालय, शिक्षकों पर गिरी गाज

नवादा : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। प्रखंड निर्वाची पदाधिकारी सह बीडीओ अमरेश कुमार मिश्र ने बुधवार को नारदीगंज प्रखंड विभिन्न विद्यालयों में स्थित मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन किया। इस दौरान कई विद्यालय जहां बंद पाये गये, वहीं कई विद्यालय में कार्यरत शिक्षक बिना सूचना के गायब मिले। वैसे शिक्षकों के विरूद्ध वेतन बंद करते हुए वेतनधारित करने की बात कही गयी है। विद्यालय का औचक निरीक्षण होने से शिक्षकों में हड़कंप मचा हुआ है। विद्यालय में स्थित मतदान केंद्रों का निरीक्षण के उपरांत प्रखंड निर्वाची पदाधिकारी सह बीडीओ श्री मिश्र ने बताया त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने वाला है। चुनाव को लेकर विद्यालय स्थित मतदान केंद्रों में मूलभूत सुविधाओं को लेकर भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। इस दौरान 33 बुथों का भौतिक सत्यापन किया गया है। जिसमें प्राथमिक विद्यालय बडा़ेसरा, प्राथमिक विद्यालय जोराबर बिगहा, उत्क्रमित मध्य विद्यालय मसौढ़ा, बुनियादी विद्यालय कुझा, उत्क्रमित मध्य विद्यालय पूर्णा भदौर, प्राथमिक विद्यालय भलुआ, प्राथमिक विद्यालय मटिहानी निरीक्षण के क्रम में बंद पाया गया। वहीं प्राथमिक विधालय हिरामनबिगहा में तीन शिक्षक अनुपस्थित पाये गये। साथ ही साथ शौचालय गंदा पाया गया। विद्यालय परिसर में गंदगी को देखकर प्रधान शिक्षक को कड़ी फटकार लगाते हुए शौचालय के साथ परिसर को साफ सुथरा रखने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा प्राथमिक विद्यालय काशीबिगहा में एक शिक्षक अनुपस्थित मिले। प्राथमिक विद्यालय उतरी बुच्ची में रैम की व्यवस्था नहीं थी। उन्होंने कहा सभी शिक्षकों को एक दिन का वेतन काटते हुए वेतनधारित किया जाता है, और सुसपष्ट सष्टीकरण की मांग शिक्षकों से किया गया है। संतोषजनक जबाब नहीं मिलने पर विभागीय कार्रवाई किया जाएगा।


------------------
मतदान केंद्रों का किया जा रहा भौतिक सत्यापन
संसू, अकबरपुर : पंचायत चुनाव के मद्देनजर स्थानीय प्रशासन द्वारा विभिन्न मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन युद्ध स्तर पर जारी है। बीडीओ डॉ. मृत्युंजय कुमार ने बताया कि प्रखंड में कुल 301 मतदान केंद्र हैं। जिनमें आधे से अधिक मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन किया गया। शेष मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन चल रहा है। उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग के दिशा निर्देश पर संवेदनशील, अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर पहुंचकर आवश्यक सुविधाओं की स्थिति का आकलन किया जा रहा है तथा चिन्हित मतदान केंद्रों पर मतदाताओं को मतदान करने की सुविधाएं उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की जा रही है। ताकि मतदान करने में किसी भी प्रकार की परेशानियों का सामना मतदाताओं को करना न पड़े।

अन्य समाचार